भारत के इस स्थान पर है दुनियां का सबसे महंगा आम! एक किलो की कीमत ₹2.50 लाख.. सुरक्षा में लगे हैं खूंखार डॉग ! जानें क्या है आम की खासियत और क्यों है इतना महंगा?

2,088 views

जबलपुर। जापान में ‘टोरेंगो दी टमेंगो ‘ के नाम से मशहूर आम की एक खास वेरायटी है, जिसे इंग्लिश में ‘एग ऑफ द सन’ का नाम दिया गया है। जापान में इस वेरायटी के आम लगभग ढाई लाख रुपए प्रति नग भी और प्रतिकिलो भी बेचे गए हैं। आम की इस खास वेरायटी को अब जबलपुर में भी सफलतापूर्वक उगाया जा रहा है। जिले की तिलवारा घाट के पास अपनी बंजर पड़ी जमीन पर संकल्प सिंह परिहार इसकी खेती कर रहे हैं।

आम की ये विशेष प्रजाति टोरेंगो दी टमेंगो इन दिनों पूरी दुनियां में चर्चा का विषय बनी हुई है। यह आम अंडे की शक्ल का होता है। बैंगनी और लाल कलर के साथ ही पकने पर इसका कुछ हिस्सा पीला पड़ जाता है। इसमें रेशे नहीं पाए जाते और स्वाद में यह बहुत मीठा होता है। आम की यह प्रजाति जापान में संरक्षित वातावरण में उगाई जाती है, लेकिन संकल्प सिंह परिहार ने अपनी बंजर पड़ी जमीन पर इसे खुले वातावरण में ही उगाया है। इस आम को मल्लिका भी कहते हैं।

संकल्प ने बताया कि इस आम की खेती में किसी केमिकल का इस्तेमाल नहीं किया गया है। उन्होंने कुछ देशी हाइब्रिड और कुछ विदेशी हाइब्रिड किस्म के आमों की किस्में लगाई हैं। इनमें सबसे ज्यादा सफल मल्लिका किस्म के आम की खेती में मिली है. संकल्प का कहना है कि यह आम अल्फांसों से भी बेहतर है। इसमें ज्यादा पल्प होता है। यह वरायटी काफी स्वादिष्ट बताई जा रही है।

इस आम की खेती करने वाले संकल्प सिंह से खास मुलाकात, देखें वीडियो –

आमों की सुरक्षा के लिए सिक्योरिटी गार्ड तैनात

इस आम की खासियत अंतरराष्ट्रीय बाजार में है और लोकल मार्केट में इसे बेचने में काफी दिक्कत होती है। क्योंकि इतना ज्यादा दाम कोई देने के लिए तैयार नहीं होता था। इसके अलावा ये फल दिखने में इतना ज्यादा आकर्षक है कि इसे भले लोग खरीद न पाएं लेकिन चोरी कर ले जाते हैं इसलिए संकल्प परिवार ने आम के पेड़ो की सिक्योरिटी के लिए 4 गार्ड और 6 खूंखार डाॅग को हायर किया है।

वीडियो इनपुट/ सोर्स : Tribal Times News

Read More