आईएएस अफसर के घर पर सीबीआई की रेड ! इतनी नोट मिले कि.. मंगवानी पड़ी नोट गिनने की मशीन !!

नोएडा। बुलंदशहर के डीएम अभय सिंह (Abhay Singh) एक बार फिर सुर्खियों में हैं। बुधवार सुबह बुलंदशहर स्थित उनके आवास पर CBI ने छापा मारा। छापेमारी की कार्रवाई के दौरान सीबीआई को नोट गिनने की मशीन तक मंगानी पड़ी।

12 ठिकानों पर हुई छापेमारी
सीबीआई ने अवैध खनन मामले में यूपी के बारह ठिकानों पर छापेमारी की। टीम ने बुलंदशहर के अलावा लखनऊ, फतेहपुर, आजमगढ़, इलाहाबाद, नोएडा, गोरखपुर, देवरिया में छापे मारे। लखनऊ में आईएएस विवेक कुमार के घर पर छापेमारी चल रही है। विवेक कुमार पर देवरिया के डीएम रहते खनन पट्टों में गड़बड़ी का आरोप लगा था। 2009 बैच के आईएएस अधिकारी विवेक अभी कौशल विकास निगम के निदेशक हैं। उनके सुशांत गोल्फ सिटी स्थित आवास पर छापेमारी चल रही है।

प्रतापगढ़ के रहने वाले हैं अभय सिंह

2007 बैच के अधिकारी अभय सिंह (Abhay Singh) मूल रूप से प्रतापगढ़ के रहने वाले हैं। बुधवार को उनके यहां पड़े सीबीआई के छापे के तार अवैध खनन मामले से जोड़े जा रहे हैं। अभय सिंह पर फतेहपुर में डीएम रहते हुए नियमों को ताक पर रखकर खनन पट्टे बांटने का आरोप है। वह सपा सरकार में फतेहपुर में डीएम थे। लोकसभा चुनाव 2019 से पहले फरवरी में उनका ट्रांसफर बुलंदशहर किया गया था। बुलंदशहर में उन्‍होंने डीएम अनुज झा के ट्रांसफर के बाद जिले की कमान संभाली थी।

मनमाने ढंग से खनन पट्टे करने का आरोप

आपको बता दें कि अवैध खनन मामले में जांच कर रही सीबीआई इससे पहले आईएएस और बुलंदशहर की पूर्व डीएम बी. चंद्रकला से भी पूछताछ कर चुकी है। चंद्रकला पर हमीरपुर डीएम रहने के दौरान मनमाने ढंग से खनन पट्टे करने का आरोप लगा है। उनके खिलाफ भी सीबीआई जांच चल रही है। उनके पास भी अघोषित संपत्तियां मिली थीं।

सीबीआई ने दर्ज की थीं सात एफआईआर

28 जुलाई 2016 को हाई कोर्ट के आदेश के बाद सीबीआई यह केस लिया था। जिसके बाद उसने सात प्राथमिक जांच दर्ज की थीं। इनमें से तीन हमीरपुर, शामली और कौशाम्बी जिलों से जुड़ी जांचों को प्राथमिकियों में तब्दील कर दिया गया। आईएएस अभय और विवेक सहित अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।