पुलिस कस्टडी में आरोपी ने लगाई फांसी ! एसपी ने थाना प्रभारी सहित चार को किया निलंबित !! सेल्समैन आरोपी धोखाधड़ी के मामले में था हिरासत में..

गरियाबंद। पुलिस कस्टडी में एक आरोपी के आत्महत्या का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। आरोपी ठगी के आरोप में पुलिस के कस्टडी में था। मामला गरियाबंद जिले के पांडुका थाने का है। इस मामले में पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार आरोपी सुनील श्रीवास उम्र (30 वर्ष) जो की जायका आटोमोबाईल्स अभनपुर में सेल्समैन का काम करता था था। आरोपी सुनील के विरुद्ध ग्राम लोहरसी थाना पांडुका निवासी सेवक राम साहु पिता बुद्धुराम साहु ने शिकायत दर्ज करायी थी कि सुनील श्रीवास ने नया वाहन बिना फायनैंन्स दिलाने के नाम पर 6 लाख 37 हजार रुपये ले लिये और उसे शो रुम में जमा नही किया। इसके साथ ही पुराने वाहन के फायनैंन्स किये रकम को अपने खाते में ट्रांसफर कराकर जमा नही किया। प्रार्थी सेवकराम के पास बकाया राशि के लिए जब कंपनी की ओर से तकाजा आना शुरु हुआ तब प्रार्थी को ठगे जाने की जानकारी हुई।

पुलिस ने सोमवार को आरोपी को धोखाधड़ी के मामले में धारा 420 के तहत हिरासत में लिया था। आज आरोपी सुनील श्रीवास को न्यायालय में पेश किया जाना था, किन्तु उससे पहले ही आरोपी ने शौच जाने के बहाने बाथरुम में जाकर अपनी शर्ट से फांसी लगा ली।

इस मामले में पुलिस अधीक्षक द्वारा मामले की गंभीरता को देखते हुए थाना प्रभारी पांडुका वेदमति दरियों सहित चार अन्य पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।