Home Big Story 2 दिनों से भालू के बच्चे की रोने की आ रही थी...

2 दिनों से भालू के बच्चे की रोने की आ रही थी आवाज !! मदद करने के लिए पहुंचे कुछ युवक ! मादा भालू ने उतारा दो लोगों को मौत के घाट..!!

कांकेर। गांव से सटे जंगल में भालू के बच्चे के रोने के कारण जानने के लिए गए हुए फायर वाचर व अन्य लोगों पर मादा भालू ने हमला कर दिया। हमले में एक फायर वाचर सहित दो लोगों की मौत हो गई। एक अन्य फायर वाचर व एक ग्रामीण भी भालू के हमले में घायल हो गए। घटना के बाद गांव में दहशत है।

जिला मुख्यालय से 20 किलोमीटर दूर ग्राम सारंडा की गढ़िया पहाड़ में दो दिनों से भालू का एक बच्चा रो रहा था। गांव में वन विभाग द्वारा नियुक्त फायर वाचर राजकिशोर यादव ने मोबाइल पर इसकी सूचना बीड गार्ड डुलेश कश्यप को दी। इसके बाद बीड गार्ड डुलेश कश्यप अपने एक अन्य साथी के साथ मंगलवार सुबह करीब 9:00 बजे वहां पहुंचा। फायर वाचर राजकिशोर यादव व श्रवण सुरोजिया के साथ भालू के बच्चे के रोने का कारण जानने के लिए पहाड़ी की ओर बढ़े।

प्रतीकात्मक तस्वीर

राजकिशोर के मुताबिक वे लोग मौके पर पहुंचे भी नहीं थे कि मादा भालू ने श्रवण पर पीछे से हमला कर दिया तो उसे राजकिशोर उसे बचाने के लिए पहुंचा। इसके बाद उन्होंने श्रवण को भालू के पंजे से छुड़ाया। इसी बीच उनकी आवाज सुनकर गांव का रोशन नेताम भी अपने कुत्ते के साथ वहां पहुंचा। आक्रोशित मादा भालू ने रोशन पर भी हमला कर दिया। भालू को हिंसक होता देख बीट गार्ड डुलेश कश्यप ने तुरंत गांव पहुंचकर ग्रामीणों की सूचना दी।

बीट गार्ड कश्यप भागते हुए हुए गांव गया। लोगों को मदद के लिए बुलाया। सारंडा के रोशन नेताम अपने दोस्तों को बचाने जंगल कुत्ता लेकर गया। मौके पर पहुंचे ही थे कि भालू ने रोशन पर भी हमला कर दिया। कई स्थानों पर चीर दिया। रोशन की मौके पर ही मौत हो गई। गांव वालों में शामिल रतन नेताम पर भी भालू ने हमला किया। उसका हाथ टूट गया। घायल राजकिशोर व रतन नेताम को संजीवनी से अस्पताल पहुंचाया गया। इसके बाद मृतक रोशन नेताम का शव जिला अस्पताल लाया गया

कुछ देर बाद मादा भालू वहां से गायब हो गई और श्रवण को भी साथ खींचते हुए ले गई।

घायलों को अस्पताल भेजने के बाद ग्रामीण व डिप्टी रेंजर रहमान खान, आसपास के वनपाल समेत अन्य वन कर्मी जंगल में लापता फायर वाचर श्रवण सुरोजिया की खोजबीन में निकले। वनकर्मी व गांव के लोग भालू के डर से सतर्कता के साथ खोजते रहे। 6 घंटे बाद दोपहर तीन बजे जंगल में लापता फायर वाचर श्रवण सुरोजिया की भी लाश मिली।

Must Read

RIG TADKA: स्वार्थी डम्फर पार्टी (कोल तस्कर) पार्ट-2 का रायगढ़िया दर्द…! पढ़े पूरी इनसाइड स्टोरी…!!

RIG24 रायगढ़। जिला रायगढ़ जो खनिज संसाधनों से भरा पूरा है चाहे आयरन, रेती, पत्थर, गिट्टी, डोलोमाइट हो चाहे काला हीरा(कोयला)। बात चाहे यहां...
advertigement
Recommended