AccidentRaigarh

रायगढ़ / जगदम्बा प्लांट में हादसा ! काम के दौरान मशीन में हाथ फसने से मजदूर हुआ घायल ! प्रबंधन द्वारा मामला दबाने की कोशिश ! पढ़ें खबर…

रायगढ़। जोरापाली स्थित जगदम्बा प्लांट में काम करते हुए एक मजदूर के घायल होने की खबर सामने आई है,जिले के उद्योगों में सुरक्षा की कमियों की वजह से आए दिन कोई न कोई हादसा होता ही रहता है,बताना चाहेंगे कि इस तरह की घटनाओं के बाद उद्योग प्रबन्धन मामले को दबाने में कोई कसर नहीं छोड़ता है ऐसा ही इस घटना में भी देखने को मिला।

मंगलवार की रात एक मजदूर के हाथ मे गम्भीर चोट लगने के बाद उसे सरकारी अस्पताल ले जाने की बजाए उद्योग प्रबंधन द्वारा निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया,युवक का इलाज कर रहे जिले के मशहूर डॉक्टर ने बताया कि गम्भीर चोट के बाद मजदूर को इलाज के लिए लाया गया है,फिलहाल कुछ कह पाना मुश्किल है,सर्जरी के बाद ही स्पस्ट हो पाएगा कि मजदूर के हाथ को गम्भीर चोट ने कितना प्रभावित किया है।

जगदम्बा प्लांट प्रबंधन ने गुपचुप तरीके से मामले को रफादफा करने में कोई कसर नही छोड़ी थी,इस घटना की जानकारी न ही पुलिस को दी गई और न ही उद्योगिक सुरक्षा विभाग को,मामला मजदूर के हाथों में लगी गम्भीर चोट का था लिहाजा लाख कोशिशों के बाद भी सच्चाई छिप न सकी,सोशल मीडिया में खंबर वायरल हुई और जिला कलेक्टर भीम सिंह के संज्ञान में मामला आते ही उद्योग प्रबंधन की मुसीबतें बढ़ गई,खुद को फंसता देख प्लांट प्रबंधन के द्वारा घटना के दूसरे दिन पुलिस को इसकी सूचना दी गई,इस विषय मे उद्योगिक सुरक्षा विभाग ने भी कार्यवाही शुरू कर दी है,फिलहाल विभाग मजदूर के ऑपरेशन होने का इंतज़ार कर रहा है उस के बाद ही जांच में गति आएगी।

बताना चाहेंगे कि मंगलवार को भाजपा के नेता और स्थानीय उद्योग संचालक ने 112 में मृत हुए युवक के मुआवजे के लिए 1 करोड़ रु की मांग की थी और शासन प्रशासन के खिलाफ बेहद आक्रोश जताया था अब यह देखना होगा कि स्वयं के उद्योग में घटित हुई घटना के पीड़ित मजदूर को वह कितना मुआवजा देते है,वैसे अब इस मामले में जिला प्रशासन जगदम्बा प्लांट को किसी भी तरह की राहत देने के मूड में नही है,प्लांट के अंदर किस तरह की सुरक्षा व्यवस्था थी इस बात की बारीकी से जांच की जाएगी और लापरवाही साबित होने पर कार्यवाही होना निश्चित है,उद्योगिक सुरक्षा विभाग के आलाधिकारियों के अनुसार घायल मजदूर को हुई इंज्यूरी के हिसाब से मुआवजा भी तय किया जाएगा।

Back to top button