इस तारीख से खोले जाएंगे कॉलेज..शिक्षा मंत्रालय ने कि नए सत्र की घोषणा,देखिये पूरा शेड्यूल!!

शिक्षा मंत्रालय ने विश्वविद्यालयों के स्नातक (UG) और स्नातकोत्तर (PG) छात्रों के पहले वर्ष के सत्र शुरू होने की घोषणा कर दी है। इसके अनुसार सभी विश्वविद्यालय 31 अक्टूबर तक एडमिशन की प्रक्र‍िया पूरी कर लेंगे।इसके अगले ही दिन 1 नवंबर से देशभर में ग्रेजुएशन की क्लास शुरू होगी।शिक्षा मंत्रालय की ओर से इसका शेड्यूल भी जारी कर दिया है।देशभर में 31 अक्टूबर तक नामांकन की प्रक्रिया खत्म हो जाएगी। वहीं अप्रैल में सेमेस्टर ब्रेक और जून में नया सेशन शुरू करने की घोषणा की गई है।

सत्र 2020-21 का शैक्षणिक केलेंडर:

31 अक्टूबर तक नामांकन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

1 नवंबर से ग्रेजुएशन की क्लास शुरू हो जाएगी।

1 मार्च से 7 मार्च तक क लिए प्रिप्रेशन ब्रेक के लिए दिया जाएगा।

8 मार्च से 26 मार्च के बीच सेमेस्टर का एग्जाम।

27 मार्च से 4 अप्रैल तक दूसरा सेमेस्टर शुरू।

4 अप्रैल से दूसरे सेमेस्टर की क्लास शुरू।

9 अगस्त से 21 अगस्त तक दूसरे सेमेस्टर की परीक्षा।

इसके अलावा इस साल कॉलेजों के दाख‍िले भी काफी लेट हुए हैं। छात्र अभी तक असमंजस में थे कि एडमिशन प्रक्र‍िया पूरी होने के बाद वो कॉलेज इस साल जा पाएंगे भी या नहीं।लेकिन सरकार ने विश्वविद्यालयों को कोरोना प्रोटोकॉल और हेल्थ मिनिस्ट्री की गाइडलाइन का पालन करते हुए कॉलेज कैंपस खोलने को कहा है। श‍िक्षा मंत्रालय ने कहा है कि यूजीसी से सलाह के बाद ये फैसला लिया गया है।

बता दें कि स्कूल और कॉलेजों को खोलने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय पहले ही गाइडलाइन जारी कर चुका है।इसके अनुसार कैंपस में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना सबसे जरूरी है।इसके अलावा कैंपस में मास्क पहनना भी अनिवार्य होगा। स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन के अनुसार कंटेनमेंट जोन के छात्र अभी कॉलेज या स्कूल ज्वाइन नहीं कर सकते।

कोरोना से बदले बदले नजर आएंगे कैंपस

कोरोना के कहर ने लोगों की लाइफस्टाइल पर बड़ा असर डाला है,साथ ही इसने बच्चों और टीनएजर्स की जिंदगी को भी प्रभावित किया है।कभी कॉलेज कैंपस जाने का क्रेज अब कोरोना के भय से काफी कम दिख रहा है।इसके अलावा कैंपस भी अब पहले जैसे नहीं रहेंगे।यहां क्लासरूम में बैठने से लेकर मेस, लाइब्रेरी, हॉस्टल और कैंटीन तक के लिए नियम बदल गए हैं। अब यूनिवर्सिटी या कॉलेज कैंपस के नये सत्रों में भले ही आपके लिए यूनिफॉर्म नहीं है, लेकिन मास्क जरूरी होगा। कैंपस में पढ़ने जाने वाले छात्राें के लिए ये नियम कठोरता से लागू होंगे।

Join Group