कांग्रेस के नए ब्लॉक अध्यक्ष ने पकड़ा विधायक की कॉलर, जमकर हुआ विवाद..!

1,812 views

बिलासपुर/ नए सर्किट हाउस में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात करने पहुंचे विधायक शैलेश पांडे और कांग्रेस के ब्लाक अध्यक्ष तैय्यब हुसैन के बीच जमकर विवाद हुआ। कहा-सुनी से शुरू हुई बात झूमाझटकी और धमकी तक पहुंच गई। दोनों एक दूसरे को अगले चुनाव में निपटाने तक की धमकी देने लगे। आरोप है कि तैयब ने विधायक की कॉलर पकड़ ली।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार की सुबह न्यू सर्किट हाउस में अधिकारियों की बैठक लेने के साथ ही कुछ समाज के लोगों से मुलाकात कर रहे थे। इसी दौरान खबर मिली कि मसानगंज क्षेत्र से पूर्व पार्षद रहे तैय्यब हुसैन को संगठन ने फिर से कांग्रेस का ब्लाक अध्यक्ष बनाया है। तैय्यब इसकी बधाई स्वीकार करते हुए सभी से मुलाकात कर रहे थे। न्यू सर्किट हाउस परिसर में विधायक शैलेष पांडे अन्य नेताओं के साथ बैठे थे।

इसी दौरान विधायक शैलेश पांडे के पास तैय्यब पहुंचे तो विधायक ने बधाई देते हुए कहा कि इस बार ब्लाक में वे नया अध्यक्ष बनाना चाहते थे। इस पर तैय्यब ने भी जवाब दे दिया कि विधायक के लिए भी नए व्यक्ति को मौका मिलेगा। इसी बात पर दोनों ओर से बहस शुरू हो गई। कहा-सुनी के बाद गाली-गलौज और हल्की झूमाझटकी होने लगी। एक दूसरे को अगले चुनाव में देख लेने तक बात पहुंच गई और खुलेआम धमकी दी गई। आरोप है कि तैयब ने विधायक की कॉलर पकड़ ली। मौके पर मौजूद पूर्व शहर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष विजय पांडे, वरिष्ठ नेता कांग्रेस राजेश पांडे, अशोक अग्रवाल ने बात संभाली और दोनों को अलग किया।

पहले भी हो चुका है दोनों में विवाद

दरअसल कांग्रेस विधायक ने इस बार ब्लाक अध्यक्ष के लिए दूसरे नाम की सिफारिश की थी, हालांकि संगठन ने फिर से तैय्यब पर ही भरोसा जताया, इस पर विधायक की नाराजगी छलक गई। मालूम हो कि इससे पहले भी कई बार विधायक श्री पाण्डेय और तैय्यब हुसैन के बीच विवाद हो चुका है। एक दिन पहले भी रविवार को स्मार्ट सड़क के उद्घाटन के दौरान शैलेष समर्थकों और तैय्यब हुसैन के बीच विवाद की स्थित बन गई थी। हालांकि बात आगे नहीं बढ़ी और दोनों गुटों को शांत कर लिया गया था।