रिकॉर्ड/पुलिस की सफलता, जिले से लापता हुए 100 बच्चों को अपनें परिजनों से मिलवाया.! लौटाई परिवारों की मुस्कान..!

747 views

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले से लापता हुए बालक बालिकाओं को खोजने के लिए पुलिस ने जिस प्रकार से दम खम दिखाया है. इसका नतीजा है कि इस वर्ष पहली बार पुलिस में शत-प्रतिशत लापता बच्चों को देश के विभिन्न राज्यों में दबिश देकर बरामद करने में सफलता हासिल की है पुलिस ने लापता बच्चों को बरामद कर उनके परिजनों को सौंप दिया है।

जिले के थाना चौकी से इस वर्ष 17 बालाक एवं 76 बालिका सहित कुल 93 बच्चे लापता हो गए थे, लापता बच्चों के परिजनों ने अपने बच्चों के लापता होने की शिकायत थानों में दर्ज कराई थी ,इन बच्चों को सकुशल बरामद करने के लिए पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह मिणा के दिशा निर्देश, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं नोडल अधिकारी कीर्तन राठौर के मार्गदर्शन में विगत दिनों उरगा,मानिकपुर चौंकी तथा कोतवाली में बच्चों के विरुद्ध घटित अपराधों में त्वरित कार्यवाही करते हुए ,आरोपियों के विरुद्ध तीन दिवस के भीतर आरोप पत्र प्रस्तुत किया गया ,इसी प्रकार बालक बालिकाओं के गुम होने संबंधी प्रत्येक प्रकरण को सुलझाने के लिए जिला पुलिस ने बेहतर काम किया है ।

22 बालक 78 बालिका सहित कुल 100 बच्चों को किया बरामद

लापता बच्चों को खोजने के लिए थानेवार समीक्षा की और एक -एक बच्चे के परिजनों को स्वयं बुलाकर उनसे बातचीत कर बच्चों के संबंध में सारी जानकारी एकत्र की ,इसके बाद बच्चों को बरामद करने के लिए थाना स्तर पर टीम गठित की और लापता बच्चों की तलाश शुरू की पुलिस टीम ने इस वर्ष लापता हुए 17 बालक सहित बीते वर्ष लापता हुए 5 अन्य सहित कुल 22 बालकों को बरामद किया ,इसी तरह इस वर्ष कोरबा जिले में कुल 76 बालिकाएं लापता हुई थी जिसमें 72 बालिकाओं को बरामद किया है ,जबकि बीते वर्ष के अन्य बालिकाओं को बरामद किया है इस वर्ष कुल 100 बच्चों को खोज कर उनको वापस सकुशल उनके माता-पिता तक पहुंचाने में जिला पुलिस द्वारा सफलता हासिल किया गया है ।