बिना ड्राइवर के विपरीत दिशा में 100 किमी प्रतिघंटे दौड़ने लगी ट्रेन, चार डिब्बे बेपटरी, बड़ा हादसा टला..!

1,474 views

बरसुआ रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ी खड़ी थी. अचानक मालगाड़ी रोल होना शुरू हो गयी. रोल होने के बाद ट्रेन पीछे की तरफ चलने लगी और बिमलगढ़ रेलवे स्टेशन की तरफ बढ़ने लगी. बताया जाता है कि इस दौरान ट्रेन करीब 100 की रफ्तार से दौड़ने लगी थी. ट्रेन बरसुआ से बिमलगढ़ रेलवे स्टेशन तक रोल होकर जाने के दौरान करीब छह रेलवे क्रॉसिंग को पार कर गई थी. ट्रेन के आने की सूचना नहीं मिलने के कारण सभी रेलवे क्रॉसिंग खुले हुए थे.

झारखंड के चक्रधरपुर रेल मंडल के बिमलगढ़ रेलवे यार्ड में मंगलवार की शाम मालगाड़ी के चार डिब्बे बेपटरी हो गए. इस दौरान बिना ड्राइवर के ट्रेन उल्टी दिशा में दौड़ने लगी. रेलवे यार्ड से ये मालगाड़ी आयरन अयस्क लेकर राउरकेला आ रहा थी. इसी दौरान मालगाड़ी पीछे की तरफ रोल हो जाने के कारण उसके चार डिब्बे बेपटरी हो गए. सूचना मिलते ही राहतकार्य के लिए बंडामुंडा रेलवे यार्ड से क्रेन समेत अधिकारियों व इंजीनियरों की टीम बिमलगढ़ पहुंंची.

मालगाड़ी जब रोल होने लगी थी, तब ट्रेन के इंजन में टोकन पोर्टर मौजूद थे. जब ट्रेन की स्पीड बढ़ती गई तो पोर्टर इंजन के सहारे किसी तरह 24 किलोमीटर तक झूलता हुआ बिमलगढ़ पहुंचा. इस दौरान पोर्टर के शरीर में कई जगहों पर चोटें आई हैं. बरसुआ रेलवे यार्ड पर ड्यूटी में तैनात कर्मी हादसे में घायल हो गया. दोनों को बिमलगढ़ रेलवे अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है.