सारडा एनर्जी ने वापस लिया गारे पेलमा 4/7 कोल ब्लॉक..! नीलामी में आडाणी,जेपीएल,जेएसडब्ल्यू समेत आठ कंपनियों को पछाडा लगाई अब तक की सबसे ज्यादा बोली..!

1,932 views

कोल ब्लॉक की कमर्शियल नीलामी पूरी हो गई है अंतिम दिन रायगढ़ जिले की गारे पेलमा 4/7 माईंस का आक्शन हुआ । काफी कड़ी मशक्कत के बाद सारडा एनर्जी ने सबसे ज्यादा 66.75 प्रश रेवेन्यू शेयरिंग की बोली लगाई यह अब तक की किसी माईंस के लिए लगाई गई सबसे ज्यादा बोली है।
सरकार ने पहले केप्टिव यूज के लिए कोयला खदानों की नीलामी की और अब लिए कोयला खदानों की निलामी की और अब कमर्शियल यूज़ के लिए ऑक्शन किया गया ,38 खदानों के लिए बिड आमंत्रित की गई थी लेकिन केवल 19 के लिए ही कंपनियां सामने आई। 2 से 9 नवंबर तक हुई नीलामी के अंतिम दिन सोमवार को रायगढ़ जिले की गारे पेलमा 4/7 माईंस की नीलामी हुई।

टेक्निकल बिड के परीक्षण में आडानी,बालको, डीबी पावर, हिंडाल्को , जेपीएल, जेएसडब्ल्यू स्टील, नुवोको विस्ताव और सारडा एनर्जी को पात्र माना गया था।
सोमवार को इन्हीं के बीच नीलामी पूरी हुई।

19 मांईस में सबसे ज्यादा समय इसी खदान के लिए लगा ।आठों कंपनियों ने जी -तोड कोशिश की ।सुबह दस बजे शुरू हुई नीलामी शाम करीब साढे छह बजे तक चली ।गारे पेलमा 4/7 माइंस को अंततः सारडा एनर्जी ने ही राजस्व में 66.75 प्रश शेयर केंद्र सरकार को देने की बोली लगाई ।यह अब तक की सबसे ज्यादा बोली है ।अब तक करीब 41 प्रश तक बोली लगाई गई थी लेकिन तमनार के गारे पेलमा 4/7 माइंस को हासिल करने के लिए जेपीएल और जेएसडब्ल्यू भी लगे हुए थे। सारडा एनर्जी ने कमर्शियल ऑक्शन में बहुत आक्रामक तरीके से एंट्री मारी है।

1 माईंस पहले ही सरदा एनर्जी ने हासिल कर ली है 2014 तक गारे पेलमा 4/7 सारडा एनर्जी को ही आवंटित था लेकिन सुप्रीम कोर्ट द्वारा आवंटन निरस्त करने के बाद हुई नीलामी में मोनेट इस्पात एंड एनर्जी ने इसे हासिल किया लेकिन डेवलप नहीं कर सकी। इसके बाद एसईसीएल तो कस्टडी मिली थी ।

पांच साल की चुप्पी के बाद सारडा एनर्जी का धमाका

सारडा एनर्जी के इस माइंस को वापस पाने के लिए कोशिश तेज की थी .2014 में आवंटन निरस्त होने के बाद कोल सेक्टर से सारडा एनर्जी तकरीबन गयब ही थी ।अब अचानक से ही कंपनी ने तगड़ी वापसी की है ।गारे पेलमा 4/7 माइंस वापस लेने के बाद रायगढ़ जिले में अब जेपीएल का भी प्रतिद्वंदी अगर यह माईंस भी जेपीएल को मिल जाती तो कमर्शियल माइनिंग के क्षेत्र में रायगढ़ में जिंदल समूह तब तक एकाधिकार हो जाता , जब तक कि कोई दूसरी कंपनी कोई माइंड हासिल ना कर ले।

स्थानीय लोगों में खुशी का माहोल

गारे पेलमा 4/7 माईंस सारडा एनर्जी को पुनः मिलने के क्षेत्रीय लोगों में खुशी भी है ।अधीकतर खेतिहरों की जमीन चली गई है ,कंपनी के द्वारा रोजगार मुहईया भी प्रभावितों को कराया जा रहा था लेकिन माईंस बंद हो जाने के बाद सभी बेरोजगार हो गए थे ,मोनिट ने पुर्व में खरीदा तो था लेकिन माईंस चालु नहीं की।