स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ग्राहक ध्यान दें, आज से बड़े पेमेंट के लिए आएगा नया नियम..!

1,142 views

नए साल में आपके पैसे से जुड़ा बड़ा बदलाव होने जा रहा है. 1 जनवरी से बैंकिंग सिस्टम में चेक के जरिए होने वाले फर्जीवाड़े को रोकने के लिए नई व्यवस्था लागू होगी. इसमें 50 हजार रुपए से ज्‍यादा के सभी चेक पॉजिटिव पे चेक से ही जारी होंगे. यही नहीं ग्राहक चेक काटते समय खुद बैंक को उसे भुनाने वाले की जानकारी देगा. चेक काटने वाले और चेक भुनाने वाले दोनों की जानकारी के मिलान पर ही बैंक उसका क्लीयरेंस करेगा.

देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में भी 1 जनवरी से चेक पेमेंट के लिए नया सिस्टम लागू करने जा रहा है. नए सिस्टम में चेक के जरिए 50 हजार रुपए से ज्यादा का भुगतान करने के लिए कुछ जरूरी डिटेल्स को दोबारा कंफर्म करना होगा. इस सिस्टम को 1 जनवरी 2021 से लागू कर दिया जाएगा. RBI ने भी इसे लेकर एक गाइडलाइंस जारी कर दिया है, जिसमें कहा गया है कि 1 जनवरी 2021 से ‘पॉजिटिव पे सिस्टम’ को लागू कर दिया जाएगा. चेक जारीकर्ता को पेमेंट के समय फर्जीवाड़े से बचने में मदद मिलेगी.

नए सिस्टम में चेक जारीकर्ता को अकाउंट नंबर, चेक नंबर, चेक अमाउंट की जानकारी बैंक को देनी होगी. SBI ने अपने ग्राहकों से कहा है कि वो पॉजिटिव पे सिस्टम का विकल्प चुनें. अगर उन्हें इस बारे में कोई जानकारी चाहिए तो नजदीकी बैंक ब्रांच जा सकते हैं. कुछ महीने पहले भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने चेक पेमेंट के लिए पॉजिटिव पे सिस्टम को लागू करने का फैसला लिया है. RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने MPC अगस्त पॉलिसी में इसका ऐलान किया था. यह कदम चेक पेमेंट के समय होने वाले फ्रॉड को कम करने के लिए उठाया जा रहा है

क्या है पॉजिटिव पे सिस्टम?

पॉजिटिव पे सिस्टम एक तरह का नया सिस्टम है, जिसमें चेक के जरिए बड़े पेमेंट से पहले कुछ जरूरी जानकारियों को दोबार कंफर्म करना होगा. इसमें चेक जारी करने वाला व्यक्ति बैंक को SMS, मोबाइल ऐप, इंटरनेट बैंकिंग, ATM या किसी और इलेक्ट्रोनिक माध्यम से जरूरी जानकारी देगा. इसमें चेक की तारीख, लाभार्थी का नाम, अमाउंट, चेक नंबर की जानकारी देनी होगी. इन डिटेल्स का CTS से मिलान किया जाएगा. गड़बड़ी मिलने पर पेमेंट रोक दिया जाएगा और बैंक को सूचित कर दिया जाएगा.

National Payment Corporation of India

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) Positive pay cheque की सुविधा विकसित करेगी और बैंकों के लिए इसे उपलब्ध कराएगी. RBI ने कहा कि उसके बाद बैंक 50,000 रुपये और उससे ऊपर के सभी पेमेंट के मामले में खाताधारकों के लिए इसे लागू करेंगे.

Positive Pay cheque मैकेनिज़्म

चेक से होने वाले सौदों को फ्रॉड से बचाने के लिए नई व्यवस्था बनाई जाएगी.
पॉजिटिव पे के तहत चेक लिखकर बैंक को बताएं और बैंक चेक क्लीयर करेगा.
विकसित देशों ऐसी व्यवस्था, चेक की फोटो भेजने और डीटेल देने पर क्लीयरेंस.
ये व्यवस्था 50 हजार रुपए या उससे ज्‍यादा के चेक के लिए लागू करने की योजना।