Google सर्च के दौरान न करें 5 गलतियां, वरना टूट सकता है मुसीबत का पहाड़..!

1,769 views

Google search इन दिनों लोग हर छोटी बड़ी चीजों की जानकारी के लिए गूगल का सहारा लेते हैं और तत्काल अपनी समस्या का समाधान कर लेते हैं। कई बार लोगों को ऐसा लगता है कि गूगल सर्च के दौरान जो जानकारी उन्हें मिली है और वह बिल्कुल सही है और उस पर आंख मूंदकर भरोसा कर लेते हैं। ऐसी गलती कभी भी उन्हें बड़ी मुसीबत में फंसा सकती है। गूगल सर्च इंजिन ने जहां हमारी कई आम जरूरतों को आसान कर दिया है, वहीं थोड़ी सी लापरवाही के कारण मुसीबत का पहाड़ भी टूट सकता है।

इसलिए यदि आप भी गूगल सर्च पर ज्यादा निर्भर हैं तो कभी भी सर्च के दौरान ये पांच गलतियां कभी भी न करें –

सर्च इंजिन पर कभी न खोजें बम बनाने की तकनीक

Google पर भूलकर भी कभी बम बनाने की तकनीक को नहीं खोजना चाहिए, क्योंकि आप यदि ऐसी कोई भी जानकारी सर्च करते है तो देश की सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो जाती है और ज्यादा गंभीर मामला होने या शक के आधार पर आपको जेल भी जाना पड़ सकता है। देश की सुरक्षा से खिलवाड़ करने वाली ऐसी कोई सी भी जानकारी आप यदि गूगल पर सर्च करेंगे, तो आपके कंप्यूटर या लैपटॉप का आईपी एड्रेस सीधा सुरक्षा एजेंसियों तक पहुंच जाएगा।

आंख मूंद कर दवाओं पर भरोसा न करें

कई बार हम देखते हैं कि लोग किसी शारीरिक परेशानी होने पर गूगल पर अपनी बीमारी के बारे में जानकारी हासिल कर लेते हैं और गूगल सर्च पर ही अपनी बीमारी की दवा भी सर्च कर लेते हैं। ऐसा करना काफी खतरनाक हो सकता है। गलत दवाइयों का सेवन करने से आपकी तबियत ज्यादा खराब हो सकती है, इसलिए जब भी आपकी तबीयत खराब हो, तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं।

मुसीबत में डाल सकते हैं मोबाइल ऐप या सॉफ्टवेयर

गूगल सर्च के जरिए कई बार फिशिंग या फर्जी ऐप्स और सॉफ्टवेयर जब डाउनलोड कर लेते हैं, जो हमारे डिवाइस को नुकसान पहुंचा सकते हैं। साथ ही आपका मोबाइल या कम्प्यूटर सिस्टम हैक भी हो सकता है। किसी ऐप को गूगल प्ले स्टोर या फिर ऐप स्टोर से ही डाउनलोड करें। यही नहीं, किसी भी सॉफ्टवेयर को कंपनी के आधिकारिक वेबसाइट से ही डाउनलोड करें।

कस्टमर केयर नंबर हो सकते हैं फर्जी

अक्सर हम किसी होटल, कंपनी, बस सर्विस, कॉल सेंटर आदि का नंबर गूगल पर सर्च करते हैं और गूगल द्वारा बताए नंबर पर कॉल कर देते हैं। दरअसल ऐसा करना भी काफी नुकसानदायक हो सकता है। साइबर क्राइम को बढ़ावा देने वाले हैकर्स किसी भी कंपनी का फेक या फर्जी हेल्पलाइन नंबर Google Search में डाल देते हैं और जब आप उस नंबर पर कॉल करेंगे तो आपका नंबर हैकर्स के पास पहुंच जाता है, जिसके बाद हैकर्स आपको आपके नंबर पर कॉल करके साइबर क्राइम को अंजाम दे सकते हैं, जिसमें SIM Swap जैसी घटनाएं शामिल हैं।

निजी ई-मेल आईडी गूगल पर न करें सर्च

गूगल पर अपनी निजी ई-मेल आईडी सर्च न करें, ऐसा करने से भी आपका अकाउंट हैक हो सकता है। हैकर्स निजी जानकारी चुरा सकते हैं। हैकर्स से बचने के लिए समय-समय पर अपने एकाउंट का पासवर्ड बदलते रहें।