SBI ने करोड़ों ग्राहकों को दिया तोहफा, घर बैठे निकालें खाते से पैसा, जानें कैसे…!

नई दिल्ली/ अगर आपका भी देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (State Bank of India) में खाता है तो अब आपको बैंक की ओर से घर बैठे ही कैश निकालने और जमा करने की सुविधा मिलेगी. इसके अलावा भी बैंक कई तरह की सुविधाएं आपको घर बैठे दे रहा है. यानी आपको उन सभी कामों के लिए बैंक जाने की जरूरत नहीं है. स्टेट बैंक (SBI) की ओर से ग्राहकों को डोरस्टेप बैंकिंग (Doorstep Banking) की सुविधा दी जाती है.
इस सुविधा में आपको बैंक की ओर से नॉन फाइनेंशियल सर्विसेज जैसे चेक, डिमांड ड्राफ्ट, पे ऑर्डर आदि का पिक अप, अकाउंट स्टेटमेंट रिक्वेस्ट, टर्म डिपॉजिट रसीद घर पर ही पहुंचा दी जाती है. आइए आपको इस बैंकिग की खासियत के बारे में बताते हैं.

कैसे ले सकते हैं इस सुविधा का लाभ
बैंक के मोबाइल एप्लीकेशन, वेबसाइट या कॉल सेंटर के जरिए डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस के लिए रजिस्टर किया जा सकता है. इसके अलावा कामकाजी दिनों में टोल फ्री नंबर 1800111103 पर सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे के बीच कॉल की जा सकती है. SBI डोरस्टेप बैंकिंग सर्विसेज के बारे में अधिक डिटेल्स के लिए ग्राहक https://bank.sbi/dsb पर विजिट कर सकते हैं. ग्राहक अपनी होम ब्रांच में भी संपर्क कर सकता है.


किन ग्राहकों को नहीं मिलेगा डोर स्टेप बैंकिग का फायदा-

ज्वॉइंट खाते वाले ग्राहक को
अवयस्कों के खाते यानी माइनर अकाउंट्स
गैर-व्यक्तिगत प्रकृति वाले खाते
कितना मंगवा सकते हैं कैश?
भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में मिनिमम लिमिट 1,000 रुपये और मैक्सिमम लिमिट 20,000 रुपये की है. कैश विड्रॉल के लिए रिक्वेस्ट से पहले बैंक अकाउंट में पर्याप्त बैलेंस होना अनिवार्य है. ऐसा नहीं होने पर ट्रांजैक्शन कैंसिल हो जाएगा.

डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस क्या है?
डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस के द्वारा ग्राहक चेक जमा करने, पैसे निकालने और जमा करने, जीवन प्रमाण पत्र लेने जैसी कई सुविधाओं का घर बैठ लाभ ले सकते हैं. इस सर्विस से 70 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्ग, दिव्यांग व दृष्टि बाधित लोगों को अपने घर पर ही बैंकिंग सेवाएं प्राप्त करने में मदद मिलेगी. डोरस्टेप सर्विस के तहत बैंक का कोई कर्मचारी आपके घर आएगा और आपके कागज ले जाकर बैंक में जमा कर देगा.

Read More