ब्रेकिंग : छत्तीसगढ़ में बर्ड फ्लू की एंट्री ! भेजे गए सैंपल की रिपोर्ट आई पॉजिटिव ! राज्य में बर्ड फ्लू का पहला मामला !

2,988 views

बालोद. पिछले कई दिनों से प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में जारी पक्षियों के मौत के बीच छत्तीसगढ़ में बर्ड फ्लू की आखिरकार गुरुवार को पुष्टि हो ही गई। बालोद जिले के गिधाली ग्राम के पोल्ट्री फॉर्म से भेजे गए मृत मुर्गियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके साथ ही राज्य सरकार ने सभी जिलों को अलर्ट जारी कर दिया है।

किसी भी प्रकार के पक्षी और मुर्गियों की मौत पर सूचना राज्य पशु चिकित्सा विभाग को तुरंत देने के लिए कहा गया है। बालोद जिले के गिधाली ग्राम के एक निजी पोल्ट्री में फार्म में एक सप्ताह पहले एक साथ 210 मुर्गियों की मौत हो गई थी। पशु चिकित्सा विभाग ने दस मृत मुर्गियों का सैंपल जांच के लिए भेजा था। सहायक पशु चिकित्सा अधिकारी टीबी देवांगन ने बताया कि बर्ड फ्लू की जांच के लिए भेजे गए सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

एहतिहात के तौर पर पोल्ट्री फार्म को के संचालक को अलर्ट कर दिया गया है। वहीं ग्रामीणों को इस पोल्ट्री फार्म से दूर रहने के लिए कहा गया है।


प्रदेश में इस रोग के प्रवेश को रोकने के लिए समस्त अंतर्राज्यीय सीमाओं, प्रदेश के सभी 1042 निजी बॉयलर, 42 लेयर तथा 12 ब्रीडर कुक्कुट व्यवसायियों, 7 शासकीय कुक्कुट फार्म एवं समस्त जिलों में अलर्ट जारी किया गया है। जिलों के संवेदनशील क्षेत्र जैसे मुर्गी बाजार, मुर्गी फार्म, जलाशय एवं जंगली व प्रवासी पक्षी दिखाई दिए जाने वाले क्षेत्रों में सतत निगरानी रखने के निर्देश दिए गए हैं। समस्त जिलों को कड़ाई से जैव सुरक्षा का पालन करने का निर्देश किया गया है।


पशुधन विभाग द्वारा समस्त जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन विभाग एवं नगरीय प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग को बर्ड फ्लू के संदर्भ में निगरानी रखने एवं निरीक्षण करने हेतु सूचित किया गया है। विभाग द्वारा समस्त जिलों में रैपिड रिस्पांस टीम गठित कर बर्ड फ्लू बीमारी की दैनिक रिपोर्टिंग की जा रही है, जिससे पक्षियों में आकस्मिक मृत्यु अथवा लक्षण दिखाई देने पर त्वरित कार्रवाई की जा सके। प्रदेश के सभी चिड़ियाघर, जंगल सफारी, राष्ट्रीय उद्यान एवं अभ्यारण्य में गठित टीम द्वारा निरीक्षण कर निगरानी रखी जा रही है।