कंप्यूटर टीचर ने ही नाबालिग प्रेमिका को गला घोंटकर मारा था ! गर्भपात की दवाई भी खिलाई ! पढ़े पूरी खबर…

2,436 views

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में मंगलवार सुबह घर के कमरे में मिली किशोरी के शव की गुत्थी को पुलिस ने 24 घंटे में सुलझा लिया है। देवभोग थाना पुलिस ने इस मामले में बुधवार को किशोरी के प्रेमी कंप्यूटर टीचर को गिरफ्तार कर लिया। किशोरी गर्भवती थी। आरोपी ने उसे गर्भपात की दवाई भी खिलाई। फिर अवैध संबंधों को लेकर हुए झगड़े के बाद दुपट्टे से गला घोंटकर किशोरी को मार दिया।

कैथपदर गांव निवासी 17 साल की किशोरी का शव मंगलवार सुबह संदिग्ध हालत में घर के ही कमरे में बिस्तर पर पड़ा मिला था। किशोरी की मां ने पुलिस को बताया कि कंप्यूटर टीचर चंद्रध्वज सोमवार रात करीब 8-8.30 बजे घर आया और रात 12 बजे तक किशोरी के साथ ही था। उसी से किशोरी की शादी भी होने वाली थी। इसके बाद पुलिस ने पड़ोस में रहने वाले चंद्रध्वज को हिरासत में ले लिया था।

मौखिक मंगनी के बाद किशोरी से लगातार संबंध बनाता रहा
आरोपी चंद्रध्वज पेशे से फार्मासिस्ट है। कंप्यूटर की पढ़ाई करने के साथ ही वह बीमार होने पर किशोरी के परिवार को उपचार भी करता था। दोनों एक ही गांव और जाति के थे। नाबालिग होने के कारण परिजों ने दोनों की मौखिक सगाई कर दी थी। रस्मों को पूरा करने के लिए किशोरी के 18 साल का होने का इंतजार कर रहे थे। इस दौरान आरोपी लगातार किशोरी से संबंध बनाता रहा। परिवार को भी इसकी जानकारी थी।

आरोपी बोला-लड़की गर्भवती थी, लेकिन गर्भ उसका नहीं था
पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह रात करीब 8 बजे किशोरी के कमरे में गया था। उसकी कथित मंगेतर गर्भवती थी, लेकिन वह गर्भ उसका नहीं था। इसलिए उसे गिराने के लिए गर्भपात की दवाई भी खिलाई। दूसरे के साथ संबंध को लेकर उसका किशोरी से झगड़ा हुआ था। इसके बाद बात इतनी बढ़ी कि किशोरी का गला दबा दिया। फिलहाल पुलिस मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।