छत्तीसगढ़/नकली शराब की खेप पकडाई ,फार्म हाउस में नकली शराब की फैक्ट्री, रायपुर समेत कई शहरों में सप्लाई…!

रायपुर/ प्रदेश में नकली शराब खपाने वाले एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश रायपुर से हुआ है। जिला आबकारी की टीम ने रायपुर-बिलासपुर रोड पर कई पेटियां जब्ती बनाने के बाद बेमेतरा में स्प्रीट से शराब बनाए जाने के ठिकाने पर दबिश देकर यहां से भी भारी मात्रा में गोवा ब्रांड शराब जब्त की है।

बेमेतरा से प्रदेश के और कई शहरों में शराब तस्करी का पता चला है। गिरोह बेमेतरा में स्प्रीट से शराब बनाकर उसमें एमपी का लेबल चस्पा कर कारोबार में जुटा था। रायपुर-बिलासपुर रोड पर कार रोके जाने के बाद अवैध कारोबार का भंडाफोड़ हुआ। इसके पहले सचिव सह आबकारी आयुक्त निरंजन दास एवं प्रबंध संचालक एपी त्रिपाठी द्वारा अधिकारियों की बैठक लेकर शराब के अवैध कारोबार पर शिकंजा कसने निर्देश जारी किया गया था। जिला आबकारी उपायुक्त अरविंद पाटले की अगवाई में सिमरन सिटी में रहने वाले अभवास सिंग ठाकुर से पेटी गोवा ब्रांड शराब जब्ती की। उसके बताए हुए बेमेतरा के ठिकाने से भी बड़ा स्टाक बरामद किया गया। कार्रवाई के दौरान आबकारी उप निरीक्षक नीलम किरण सिंह, पंकज कुजूर एवं अनिल मित्तल शामिल रहे। आबकारी अधिनियम की धारा 34(2) का प्रकरण कायम कर छानबीन जारी है।

तिल्दा में अचानक जांच में फंसे

दो दिन पहले तिल्दा-बिलासपुर रोड पर आबकारी ने निगरानी बढ़ाई थी। अचानक जगह स्पॉट करते हुए जांच शुरू की, तब आरोपी अभिवास के बारे में पता चला। सटीक जानकारी हाथ लगने पर उसकी कार क्रमांक सीजी 12 एएन 9211 को रोका गया। उससे पूछताछ करने पर बेमेतरा की अवैध लीकर फैक्ट्री का खुलासा हुआ।

डिस्टलरी से स्प्रीट के इंतजाम

शराब बनाने के लिए इस्तेमाल ओपी-स्प्रीट की मात्रा 800 लीटर बताई गई है। शराब बनाने उपयोगी स्प्रीट का इंतजाम डिस्टलरी से होने के बारे में सूचनाएं बाहर आई हैं। इसकी तस्दीक के लिए आबकारी ने अलग से टीम अलर्ट की है। ग्रामीण क्षेत्र में स्प्रीट लेकर शराब बनाने का बड़ा केस पहली बार उजागर हो सका है।

गांव से दूर बनाई लिकर फैक्ट्री

बेमेतरा में ग्राम जेवरा थाना नवागढ़ में आरोपी अनिल वर्मा के फार्महाउस में 70 पेटी गोवा फ़ॉर सेल इन मध्यप्रदेश 630 लीटर मादिरा तथा एक स्वराज माजदा क्रमांक सी जी 04 H Z 0834 में 4 प्लास्टिक ड्रमों में भरी करीब 800 लीटर ओपी (स्प्रीट) जब्त की गई है। गांव से थोड़ी ही दूर पर फार्महाऊस के अंदर शराब बनाकर उसे खपाने का पता चला। फार्महाउस के चौकीदार कुलेश्वर गोस्वामी को भी पकड़ा गया।