रायगढ़ / बस का इंतजार कर रही महिला को दिया लिफ्ट ..सुनसान जगह पर किये गैंगरेप ..! गंभीर हालत में रायपुर में चल रहा इलाज..! दो गिरफ्तार..!! पढ़े पूरी खबर…

4,615 views

रायगढ़। लैलूंगा के खलखिया के पास 18 अक्टूबर की सुबह अधमरी हालत में पड़ी मिली एनजीओ कर्मी महिला के साथ गैंगरेप होने की बात सामने आई है। आरोपियों ने दुष्कर्म के दौरान महिला के विरोध करने पर उसकी हत्या करने चेहरे पर वार किया था। मरी समझ छोड़ भागे थे। पुलिस ने एक नाबालिग सहित दाे काे गिरफ्तार किया है। घटना स्थल से मिले ब्रेसलेट और सर्विलांस के जरिए पुलिस आराेपियाें तक पहुंची। अपहरण कर दुष्कर्म करने, लूट, हत्या के प्रयास का अपराध दर्ज कर पुलिस ने दाेनाें रिमांड पर भेजा है।

थाना प्रभारी ने बताया कि सरगुजा बलरामपुर की रहने वाली 40 वर्षीय महिला कोतबा और आसपास के गांवो में एनजीओ बनवाने का काम करती है। रविवार काे उसे पत्थलगांव जाना था। वह बस से बीच रास्ते लैलूंगा में उतर गई। मीटिंग में जल्दी पहुंचने के चक्कर में उसने पास में खड़े धरमजयगढ़ के संताेष यादव (22) व उसके 16 वर्षीय साथी से लिफ्ट मांग ली। पेट्राेल डलवाने की बात तय हाेने पर बाइक सवार दाेनाें उसे पत्थलगांव की ओर लेकर चल दिए। बीच रास्ते में आराेपियाें का मन डाेल गया और खलसिया के पास सुनसान जगह पर उसके साथ दुष्कर्म किया और विराेध करने पर जान से मारने के लिए पत्थर से हमला किया। आराेपी उसे मरा समझकर उसका पर्स, माेबाइल लूट कर भाग गए थे। महिला रायपुर के अस्पताल में भर्ती जहां पर उसकी अभी भी हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस परिजन से उसके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ले रही है। पहले ही दिन पुलिस को महिला के एक युवक के साथ बाइक पर देखे जाने का पता चला था।

ताेलगे जाना था महिला काे देख बदला रास्ता
पुलिस गिरफ्त में आए संताेष यादव ने बताया कि उसका साथी रायपुर से शिवनाथ बस से अपने चाचा के घर ताेलगे जाने के लिए आ रहा था। लेकिन वह लैलूंगा न उतर कर बागबहार चला गया। वह लिफ्ट लेकर लैलूंगा आया और उसे फाेन कर बुलाया था। वे दाेनाें ताेलगे जाने के लिए निकल रहे थे तभी चाैक के पास एक महिला वाहन के इंतजार में भटक रही थी। पास पहुंचते ही उसने हाथ दिया और लिफ्ट देने के लिए गुजारिश करने लगी। दाेनाें ने महिला से कहा कि वह पेट्राेल डलवा दे तो ये दोनों उसे पत्थलगांव छोड़ देंगे। राजी हाे जाने पर वह उसे लेकर चले। रास्ते में ही दाेनाें का मन डाेल गया और दोनों ने महिला के साथ जंगल ले जाकर दुष्कर्म करने की याेजना बनाई।

आराेपियाें तक ऐसे पहुंची पुलिस
पुलिस काे छानबीन के दाैरान एक ब्रेसलेट मिला था। इधर महिला के लूटे गए माेबाइल की पुलिस ने ट्रैकिंग शुरू की। सर्विलांस से जिस जगह की लाेकेशन ट्रेस हुई पुलिस वहां पहुंची और संताेष के एक साथ ही पूछताछ कर ब्रेसलेट दिखाया ताे उसने संताेष का हाेना बताया। इस पर पुलिस संताेष और उसके साथी तक पहुंची, जिसके बाद दाेनाें अपना जुर्म कबूल किया है। महिला को अब तक होश नहीं आया है। कोई सुराग नहीं था लेकिन पुलिस ने मोबाइल सर्विलांस के जरिए चार दिन के भीतर ही मामले की गुत्थी सुलझा दी।

मेडिकल रिपाेर्ट आने के बाद बढ़ाएंगे मामले में धाराएं
“दाेनाें आरोपियों ने दुष्कर्म किया। विराेध करने पर पत्थर से वार कर हत्या करने का प्रयास किया। सर्विलांस और घटनास्थल पर मिले साक्ष्य से पुलिस आराेपियाे तक पहुंची। पीड़ित के बयान और आराेपियों द्वारा जुर्म कबूल किए जाने के बाद धारा 307, 366, 376, 394 के अपराध दर्ज कर रिमांड पर भेजा गया है। आगे जाे भी मेडिकल रिपाेर्ट आएगी, उसकी आधार पर और धाराएं जाेड़ी जाएगी।”
अमित सिंह, थाना प्रभारी लैलूंगा