लोगो से ज्यादा पैसे की चाहत में सालभर के बच्चे को अगवा किया किन्नर ने! आरपीएफ की पेट्रोलिंग पार्टी ने धरा.. सप्ताह भर पहले परिचित के घर से चोरी किया था बच्चा..

1,115 views

बिलासपुर। आरपीएफ की पेट्रोलिंग पार्टी ने एक किन्नर को 1 साल के बच्चे के साथ पकड़ा है। किन्नर ने उस बच्चे को इसलिए अगवा किया था ताकि उसकी गोद में बच्चा देखकर लोग उसे ज्यादा पैसा देंगे। आरोपी किन्नर ने उसे 1 साल के बच्चे को अपने ही किसी पहचान वाले के घर से अगवा किया था।

प्राप्त जानकारी के अनुसार किन्नर को रविवार की सुबह वेनगंगा एक्सप्रेस में चांपा स्टेशन के बाद पकड़ा गया है। इस ट्रेन में बिलासपुर से कोरबा तक आरपीएफ की पैट्रोलिंग पार्टी जांच कर रही थी। प्रधान आरक्षक संजीव राय व आरक्षक डीपी रत्नायक को एक कोच में नंदनी पाल उर्फ घनश्याम दीप (25 साल) नाम का एक किन्नर दिखा। उसकी गोद में एक साल का बच्चा था। जिसे देखकर बल सदस्यों को संदेह हुआ। पूछताछ में उसने अपना नाम नंदनी पाल ग्राम जोगीकुंडा थाना लोहिसिया जिला बलांगीर ओडिशा निवासी बताया।

बच्चे के बारे में जानकारी ली गई तो वह हड़बड़ा गया। कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने बताया कि सप्ताहभर पहले एक नवंबर को ब्रजराजनगर मुंडापारा गांधी चौक निवासी प्रमोद सिंह के घर गया था। प्रमोद से उसकी जान पहचान है। किन्नर ने उनके घर में भोजन किया। इसके बाद जैसे ही स्वजन इधर- उधर हुए तो किन्नर बच्चे को उठाकर भाग निकला।

किन्नर ने बताया कि उसने बच्चे को अगवा करने के बाद कुछ दिन बिलासपुर में रखा। उसके बाद उसे चांपा लेकर आ गया। रविवार को वह वैनगंगा एक्सप्रेस से उसे लेकर कोरबा जा रहा था।

आरोपी किन्नर ने बताया कि उसने बच्चे को इसलिए अगवा कर लिया था ताकि लोग उसकी गोद में बच्चा देखकर ज्यादा पैसे देंगे पेट्रोलिंग पार्टी ने ट्रेन कोरबा रुकने पर आरोपी किन्नर को कोरबा जीआरपी के हवाले किया मामला ब्रजराजनगर नगर का होने के शुन्य में केस दर्ज कर ब्रजराजनगर जीआरपी को ट्रांसफर किया जायेगा।

इसके साथ ही बच्चे की स्वास्थ्य जांच करने के बाद उसे चाय लाइन कोरबा में छोड़ा गया है रविवार को ही बच्चे के परिजनों को जीआरपी द्वारा सूचना दे दी गई थी जिसके बाद परिजन रविवार शाम को बिलासपुर जीआरपी पहुंचे।