PUBG नहीं खेल पाने से मायूस 21 वर्षीय छात्र ने जान दी..माँ ने बताई पूरी कहानी..पढ़े पूरी खबर..!!

कोलकाताः देश में पॉपुलर गेम PubG बैन होने के बाद आत्महत्या का पहला मामला सामने आया है। पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में ऑनलाइन गेम पबजी नहीं खेल पाने की वजह से 21 वर्षीय छात्र ने कथित रूप से खुदकुशी कर ली। पुलिस ने रविवार को बताया कि ITI छात्र प्रीतम हलदर ने चकदाह थाना-क्षेत्र के पुरबा लालपुर में स्थित अपने घर में खुदकुशी कर ली। उसकी मां रत्ना ने बताया कि शुक्रवार सुबह नाश्ता करने के बाद हलदर अपने कमरे में चला गया। उन्होंने बताया, ‘जब मैं उसे दोपहर के भोजन के लिए बुलाने गई तो उसका कमरा अंदर से बंद था।’

छात्र की की मां ने कहा, ‘बार-बार दस्तक देने के बाद भी दरवाजा नहीं खोला गया तो मैंने पड़ोसियों को बुलाया। वे दरवाजा तोड़कर कमरे में दाखिल हुए तो पाया कि वह पंखे से लटका हुआ है।’ पुलिस ने कहा कि उसने अप्राकृतिक मौत का मामला दर्ज कर लिया है। रत्ना ने दावा किया कि उनका बेटा PubG नहीं खेल पाने की वजह से मायूस था। पुलिस ने बताया कि परिवार से बात करने के बाद उन्हें लगता है कि प्रीतम ने मोबाइल गेम नहीं खेल पाने की वजह से अपनी जान दी है।

Advertisement

केंद्र सरकार ने लगाया था PUBG पर प्रतिबंध
बता दें कि सरकार ने लोकप्रिय गेमिंग ऐप पबजी सहित चीन की कंपनियों से जुड़े 118 अन्य मोबाइल ऐप्स पर बीते बुधवार को बैन लगा दिया। इन्हें भारत की संप्रभुता, अखंडत, सुरक्षा और शांति-व्यवस्था के लिए खतरनाक मानते हुए इन पर पाबंदी लगाई गई। पबजी समेत इन 118 नए ऐप्स को जोड़कर चीन की कंपनियों से संबंधित जिन ऐप पर भारत में प्रतिबंध लगाया गया है, उनकी संख्या बढ़कर अब 224 हो गई है।