EntertainmentInformation

Relationship Tips :  पुरुषों को नहीं पसंद आती है यह रोक-टोक ! अगर आप भी करती हैं तो हो जाएं सावधान, नहीं तो टूट सकता है रिश्ता !

Relationship Tips: पुरुषों को किसी भी बात में ज्यादा इंटरफेयर करने की आदत नहीं होती है. ठीक उसी प्रकार उन्हें ये भी पसंद नहीं होता कि उनकी कुछ आदतों में रोक-टोक लगाई जाए. पुरुष ज्यादातर कूल रहना पसंद करते हैं और गॉसिप भी नहीं करते लेकिन कुछ बातों पर उन्हें बहुत ज्यादा गुस्सा भी आ जाता है. आपने देखा होगा कि जब भी आप अपने बॉयफ्रेंड या पति पर ज्यादा रोक-टोक लगाने लग जाती हैं, तो वह इरिटेट होना शुरु कर देते हैं. लेकिन एक रिश्ते के लिए पार्टनर्स का यह ध्यान रखना जरूरी है कि हर बात पर किसी को टोकना भी सही नहीं, दो अलग तरह के इंसान एक जैसे नहीं हो सकते. ऐसे में अगर आप चाहती हैं कि आपका बॉयफ्रेंड या पति बिल्कुल आपके अनुसार चले या आपके जैसा बन जाए, तो यह मुमकिन नहीं है.

खानपान में रोक-टोक नहीं
पुरुषों को खाने-पीने का बहुत शौक होता है लेकिन सब्जियों के मामले में वह बहुत ही सिलेक्टेड होते हैं. अगर महिलाएं उन्हें क्या सब्जी खानी चाहिए और क्या नहीं खानी चाहिए का सजेशन देती हैं तो समझ जाएं कि पुरुषों को गुस्सा दिला रही हैं. इन बातों को सुनकर वह चिढ़ने लगता है.

क्रिकेट देखने में
पुरुषों को क्रिकेट देखने में बिल्कुल रोक-टोक पसंद नहीं होता है. चाहे कोई भी मैच हो, पुरुष इसे बहुत ज्यादा इन्जॉय करते नजर आते हैं लेकिन उनका पारा तब बढ़ने लगता है जब महिलाएं इस बीच अपना सास-बहू सीरियल देखने की जिद करने लगती हैं या फिर जबरदस्ती कोई बात करने लगती हैं. इससे पुरुष मैच को पूरी तरह से इन्जॉय नहीं कर पाते और उन्हें गुस्सा आने लगता है.

लुक्स और स्टाइल पर कमेंट करना
अक्सर लड़के स्टाइलिंग पर लड़कियों जितना फोकस नहीं करते हैं. यहां तक कि कई पुरुष डेट नाइट पर जाने के लिए भी अपनी ड्रेसिंग स्टाइल पर खास ध्यान नहीं देते हैं. जिस कारण गर्लफ्रेंड्स अपसेट होने के साथ उनके लुक्स को लेकर बार-बार कई तरह की बातें कह देती हैं और इस वजह से स्पेशल प्लान पूरी तरह से खराब हो जाता है.

दोस्तों के साथ पार्टी के लिए मना करना
अगर आप सोचती हैं कि आपके बॉयफ्रेंड या पति की लाइफ में सिर्फ और सिर्फ आपकी अहमियत रहे, तो इस ख्याल को दिमाग से निकालना बेहद जरूरी है. परिवार और दोस्तों के लिए पुरुषों का टाइम निकालना उनकी प्राथमिकताओं में हमेशा शामिल रहता है. ऐसे में जब आप लगातार दोस्तों से न मिलने के लिए कहती हैं या उनके परिवारवालों के साथ वक्त बिताने पर टोकती हैं, तो उन्हें ये चीजें बिल्कुल बर्दाश्त नहीं होती.

Back to top button