Loans

Personal Loan On Low Interest: कम ब्याज दर पर चाहिए पर्सनल लोन? तो रखना होगा इन 5 बातों का ध्यान

How to get Personal Loan On Low Interest Rate: अक्सर अचानक आए खर्च के वक्त जब आपके पास पैसे न हों तो पर्सनल लोन (Personal Loan) का सहारा लेना पड़ सकता है. आप अपने घर के बड़े खर्चों जैसे शादी, शिक्षा और अलग-अलग आपात स्थितियों के लिए भी पर्सनल लोन ले सकते हैं. लेंडर्स अपने ग्राहकों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए फ्लेक्सिबल रिपेमेंट टेन्योर, ऑनलाइन आवेदन और तेजी के साथ लोन उपलब्ध कराने जैसे कई तरह के ऑफर पेश करते हैं.

पर्सनल लोन से जुड़े नियमों और इसकी दूसरी खासियतों के बारे में अक्सर लोगों को काफी कम जानकारी होती है. ऐसे में इनसे जुड़े खास पहलुओं के बारे में जानना बेहद जरूरी है. पर्सनल लोन लेने से पहले मार्केट में अलग-अलग लेंडर्स द्वारा ऑफर किए जा रहे ब्याज दरों के बारे में रिसर्च कर लेना चाहिए, ताकि आप सबसे कम ब्याज दर का फायदा उठा सकें. यहां हम आपको पांच ऐसे टिप्स देने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप सबसे कम ब्याज दर पर पर्सनल लोन प्राप्त कर सकते हैं.

अच्छा क्रेडिट स्कोर है जरूरी

अगर आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा (700 से ऊपर) है तो यह आपको कम ब्याज दर पर पर्सनल लोन प्राप्त करने में मदद कर सकता है. आपका क्रेडिट स्कोर बेहतर तभी होगा जब आपकी क्रेडिट हिस्ट्री अच्छी होगी. आपकी क्रेडिट हिस्ट्री को देखकर ही लेंडर्स इस बात का अंदाजा लगाते हैं कि आप भविष्य में समय पर अपना कर्ज चुका पाएंगे या नहीं. इसलिए आपको लगातार अपने क्रेडिट स्कोर को बेहतर करने की कोशिश करते रहना चाहिए. आपको इसके लिए अपने क्रेडिट कार्ड बिल का पूरा भुगतान सही समय पर करना चाहिए और सभी लोन को समय पर या समय से पहले चुका देना चाहिए.

लोन रिपेमेंट हिस्ट्री का ध्यान रखना भी जरूरी

पर्सनल लोन के लिए ब्याज दर तय करने से पहले बैंक न केवल आपका सिबिल स्कोर चेक करता है बल्कि आपके लोन रिपेमेंट हिस्ट्री की भी जांच करता है. बैंक आमतौर पर उन लोगों को कर्ज देते हैं जिन्होंने पिछले 12 महीनों में डिफॉल्ट नहीं किया है. अगर एक लोन डिफॉल्टर को कर्ज दिया जाता है, तो वहां ब्याज दर ज्यादा हो सकता है. इसलिए, पर्सनल लोन पर कम ब्याज दर के लिए यह जरूरी है कि आपके लोन रिपेमेंट में अनुशासन हो.

अपने प्रोफेशनल क्रेडेंशियल्स का उठाएं फायदा

कम ब्याज दर पर पर्सनल लोन प्राप्त करने के लिए आप प्रोफेशनल क्रेडेंशियल्स का अधिकतम फायदा उठा सकते हैं. आपकी आय जितनी ज्यादा होगी, आप उतनी ही आसानी से रेगुलर लोन पेमेंट कर सकते हैं. इसलिए, आपके लिए बेहतर ब्याज दरों पर लोन स्वीकृत होने की संभावना बढ़ जाती है. इसके लिए, आयकर रिटर्न जैसे वैलिड इनकम प्रुफ प्रस्तुत करना होगा. उधार देने वाला बैंक उस कंपनी की प्रतिष्ठा की भी जांच करता है जहां आप काम करते हैं. अगर आप एक नामी कंपनी में काम करते हैं, तो लेंडर यह अनुमान लगाता है कि आपके पास एक स्थिर कैरियर है और आप समय पर ऋण चुका सकते हैं. ऐसे में आपके लिए कम ब्याज दर पर पर्सनल लोन हासिल करना आसान हो जाता है.

बैंक के साथ बनाएं अच्छा रिलेशन

बैंक में अपने आप को एक लॉयल कस्टमर के तौर पर साबित करना भी आपके लिए फायदेमंद हो सकता है. अगर बैंक में आपकी फिक्स्ड डिपॉजिट और सेविंग अकाउंट को खोलने और मैनेज करने से संबंधित हिस्ट्री अच्छी होगी तो इस स्थिति में भी आपको कम ब्याज दर पर लोन मिलने की संभावना बढ़ जाती है. बैंक के साथ अच्छे संबंध स्थापित करके आप आकर्षक ब्याज दरों पर पर्सनल लोन हासिल कर सकते हैं.

अलग-अलग बैंकों के ब्याज दरों की तुलना करें

आपको सबसे पहले, अलग-अलग बैंकों द्वारा दी जाने वाली ब्याज दरों की तुलना करनी चाहिए. इसके बाद आपको उस बैंक का चुनाव करना चाहिए जो सबसे कम ब्याज दर पर पर्सनल लोन ऑफर कर रहा हो. अगर कोई बैंक पेपरलेस, डिजिटल एप्लिकेशन की अनुमति देता है, तो आप ऑनलाइन लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं और बिना किसी देरी के तत्काल लोन प्राप्त कर सकते हैं.

(Source: Tax Guru)

Sponsored by

Related Articles

Back to top button
Enable News Updates    OK No thanks