रायगढ़/ मंदिर दर्शन करने आए थे 11 लोग …महानदी में नहाने के दौरान एक डूब गया..! तलाश जारी…

2,629 views

रायगढ़ । चंद्रहासिनी मंदिर का दर्शन करने के लिए रायगढ़ से 11 युवकों की टीम चंद्रपुर आई थी। दर्शन करने से पहले सभी नहाने के लिए महानदी घाट गए। वहां सभी नहा रहे थे कि दो युवक संदीप जायसवाल और आशीष जायसवाल दूर चले गए तथा धार में डूबने लगे। युवकों ने भाग कर मछुआरों को जानकारी दी तो संदीप जायसवाल को तो मछुआरों ने निकाल लिया लेकिन आशीष तेज धार में बह गया। चंद्रपुर टीआई जीएस राजपूत के अनुसार रींवा के लोग रायगढ़ में ठेला लगाकर फल, पेठा, खजूर सहित अन्य सामान बेचने का व्यवसाय करते हैं। रविवार को वहां से 11 लोग एक साथ मंदिर का दर्शन करने के लिए चंद्रपुर आए थे। सभी जायसवाल हैं। मंदिर दर्शन करने से पहले सभी नहाने के लिए गए। श्री राजपूत के अनुसार अधिकांश युवक घाट के पास ही नहा रहे थे कि संदीप जायसवाल (20) और आशीष जायसवाल (20) तैरते हुए आगे बढ़ गए।

दोनों नदी की तेज धार में डूबने उतराने लगे। घाट के पास नहा रहे युवकों को दोनों के डूबने की आशंका हुई तो मछुआरों को बताया। युवकों को बचाने के लिए मछ़ुआरे नदी में पहुंचे तो संदीप जायसवाल दिख रहा था जिसे उन्होंने बाहर निकाला, जब तक वे वहां पहुंचे तब तक आशीष पानी में डूब गया था। अपने स्तर पर मछुआरों ने उसे भी तलाश करने की कोशिश की। लेकिन उसका पता नहीं चल सका।

जहां डूबा वहां करीब 40 फीट गहरी है महानदी
जिस जगह पर युवक के डूबने की घटना हुृई है वहां करीब 40 फीट पानी बताया जा रहा है। यह भी बताया जा रहा है कि वहां पर भंवर भी उठता है तथा नीचे पत्थर भी है। भंवर में भी कई बार लोग फंस जाते हैं फिर निकल पाना कठिन होता है। यदि पत्थर में जाकर फंस गया तब तलाशना और कठिन हो जाता है।

मानिकपुर से मंगाया गया बड़ा जाल
टीआई राजपूत के अनुसार मछ़ुआरों ने अपने स्तर पर प्रयास किया है, पर सुराग नहीं मिला। इसलिए सारंगढ़ थाना क्षेत्र के मानिकपुर से बड़ी जाली मंगाई गई है ताकि उसमें फंस सके। बराज वालों को भी सतर्क कर दिया गया है। अमूमन यहां पर डूबने वाले की डेड बॉडी 12 से 15 घंटे के बीच बराज तक पहुंचती है