InformationLoans

E Shram Card: क्या है?? पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख… इन सब सवालों के यहाँ मिलेंगे जबाब!!

e shram card : सरकार की ओर से गरीब वर्ग के लोगों के लिए समय-समय पर कई कदम उठाए जाते हैं, जिसके तहत उन्हें कई सरकारी योजनाओं का फायदा भी पहुंचाया जाता है. वहीं इसी के मद्देनजर अबतक कई पोर्टल की शुरुआत की जा चुकी है.

ठीक उन्हीं में से एक ‘ई-श्रम पोर्टल’ भी है. जिसके जरिए केंद्र सरकार असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों का डेटाबेस तैयार कर रही है, ताकि उन्हें सभी योजनाओं का फायदा पहुंचाया जा सके.

दरअसल असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोग ई-श्रम कार्ड के जरिए सभी योजनाओं का फायदा उठा सकते हैं, उसमें वर्तमान में शुरू की गई सभी योजनाएं और भविष्य में शुरू होने वाली सरकार की सभी योजनाएं शामिल होंगी. लेकिन अक्सर कुछ बातें सामने आती रही हैं, जिसको लेकर हर किसी के मन में कई सवाल है, जिसमें से एक सवाल यह भी है कि, क्या 31 दिसंबर के बाद ई-श्रम पोर्टल बंद हो गया है, क्या अब आगे इसपर पंजीकरण नहीं किया जा सकेगा. आइए आपके इस सवाल का जवाब बताते हैं.

ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण की लास्ट तारीख?

असंगठित क्षेत्र से जुड़े सभी कर्मचारी ई-श्रम कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं, क्योंकि इसकी फिलहाल कोई आधिकारिक अंतिम तिथि नहीं है. हालांकि, 500 रुपये का लाभ उठाने के लिए ई-श्रम पंजीकरण की अंतिम तिथि 31 दिसंबर, 2021 थी, जो अब जा चुकी है. बता दें, यह समय सीमा केवल उत्तर प्रदेश राज्य के श्रमिकों के लिए थी, जो 500 रुपये की क्रेडिट लाइन के लिए इच्छुक थे.

कामगार अब भी कर सकते हैं पंजीकरण

अगर आप असंगठित क्षेत्र के कामगार हैं, और अबतक आपने ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया है, तो आप बिना परेशान हुए कभी भी पंजीकरण कर सकते है. आपके पास रजिस्ट्रेशन करने के दो ऑप्शन उपलब्ध है, जिसमें पहला खुद पोर्टल (self registration) पर जाकर पंजीकरण का है, वहीं दूसरा विकल्प आप कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर भी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं.

परेशानी आने पर इस नंबर पर कॉल करें

वैसे तो ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया काफी आसान है, लेकिन अगर किसी भी तरह की परेशानी कामगार को ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण के दौरान आती है, तो आप हेल्पडेस्क या टोल फ्री नंबर-14434 पर कॉल कर सकते हैं. इससे रजिस्ट्रेशन करने के दौरान आपको समाधान मिल जाएगा. वहीं इस हेल्पडेस्क से सहायता प्राप्त करने के लिए श्रमिक किसी भी भाषा में बात कर सकेंगे. क्योंकि इसके जरिए 9 भाषाओं में सहायता की जा रही है.

Sponsored by

Related Articles

Back to top button
Enable News Updates    OK No thanks