Informationरायपुर

Raipur News: driving license बनने के नियम में हुआ बदलाव ! अब QR Code के साथ बनेगा कार्ड !

Raipur News: ड्राइविंग लाइसेंस (driving license) के नियम को लेकर एक बड़ी अपडेट सामने आई है। परिवहन विभाग ने लाइसेंस निर्माण को लेकर नियम में बड़ा बदलाव किया है। नए नियम के मुताबिक अब QR Code लगे हुए ड्राइविंग लाइसेंस बनेंगे। जिससे अब एक क्लिक पर ही लाइसेंस कार्ड धारी की पूरी जानकारी मोबाइल पर दिखने लगेगी।

ड्राइविंग लाइसेंस में ये हुए बदलाव

बताया जा रहा है कि अब नए बनने वाले ड्राइविंग लाइसेंस पर मोबाइल नंबर लिखा हुआ रहेगा। परिवहन विभाग ने क्वालिटी को ध्यान देते हुए प्लास्टिक कार्ड की जगह पाली कार्बोनेट कार्ड में लाइसेंस बनवाने की बात कही। पहले यह शिकायत सुनने को मिलती थी कि लाइसेंस कार्ड नॉर्मल प्लास्टिक से बनने की वजह से टूट जाता था, लेकिन अब पाली करबोनेट से कार्ड बनेगा जिससे मजबूती आएगी और सुरक्षित रहेगा। परिवहन विभाग ने पाली कार्बोनेट कार्ड बनाने की जिम्मेदारी 10 साल के लिए कर्नाटक की एमसीटी कार्ड्स एंड टेक्नोलाजी प्राइवेट लिमिटेड नामक कंपनी को दी है।

बिना QR code वाले कार्ड में थी ये समस्या

जानकारी के अनुसार प्रदेश में 60 लाख ड्राइविंग लाइसेंस और 55 लाख आरसी बुक बन चुके हैं। रिपोर्ट के मुताबिक 1 साल में तकरीबन तीन लाख ड्राइविंग लाइसेंस बनते हैं। लेकिन देशभर में ड्राइविंग लाइसेंस का प्रारूप में भिन्नता और अलग अलग फॉन्ट इस्तेमाल होने के कारण दूसरे राज्यों की पुलिस को ड्राइविंग लाइसेंस की जांच करने में परेशानी होती है। जिसने फर्जीवाड़ा का भी डर बना रहता है। इसी डर को खत्म करने के लिए परिवहन विभाग ने ड्राइविंग लाइसेंस कार्ड के अलावा कार्ड में रह गए शब्दों का भी बदलाव किया जाएगा अब नए बनने वाले कार्ड में अक्षरो को को लेजर से लिखा जाएगा। परिवहन विभाग ने कार्ड में बदलाव जरूर किया है लेकिन कार्ड बनवाने के लिए निर्धारित शुल्क में कोई बदलाव नहीं किया है। अभी भी दो पहिया चार पहिया वाहन के लिए निर्धारित शुल्क ₹1050 ही देना होगा

Back to top button