बीसीसीआई करने जा रही हैं सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट के नियम में परिवर्तन, इन क्रिकेट खिलाड़ियों को मिल सकते हैं करोड़ों रुपए…

भारतीय क्रिकेट बोर्ड अपने सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट के नियमो में परिवर्तन करने की तैयारी कर रही हैं जिससे अधिक खिलाड़ी सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट के दायरे में आएंगे जिससे ज्यादा क्रिकेटर्स को फायदा मिल सकेगा व उन्हें करोड़ो रुपए सालाना मिल सकेंगे दरसअल बीसीसीआई के वर्तमान नियम के अनुसार कोई भी खिलाड़ी 7 से अधिक वंडे मैच खेलेगा व 3 से ज्यादा टेस्ट मैच खेलेगा तो वो सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट के दायरे में आ जाता हैं लेकिन ट्वेंटी ट्वेंटी खेलने वाले खिलाड़ियों को इस कॉन्ट्रैक्ट से दूर रखा जाता हैं

बीसीसीआई के नियम में ऐसे कोई प्रावधान नहीं हैं कि ट्वेंटी ट्वेंटी खेलने वाले खिलाड़ियों को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल किया जाए लेकिन इंडियन एक्सप्रेस में छपी एक रिपोर्ट अनुसार सूत्रों के हवाले से ये ख़बर है कि 10 से ज्यादा ट्वेंटी ट्वेंटी मैच खेलने वाले खिलाड़ियों को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल किया जाएगा।

बीसीसीआई ने सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर चार कैटेगरी बना रखी हैं. A प्लस कैटेगरी वाले खिलाड़ियों को 7 करोड़ रुपये मिलते हैं, जबकि A कैटेगरी के खिलाड़ियों को सलाना 5 करोड़ रुपये मिलते हैं. B कैटेगरी के खिलाड़ियों को तीन करोड़ रुपये और C कैटेगरी के खिलाड़ियों को 1 करोड़ रुपये सलाना दिए जाते हैं.