PF नहीं निकाल पाएंगे इन बैंकों के खाताधारक, बढ़ने वाली है इस वजह से टेंशन , पढे़ खबर क्या होगा करना…!

1,099 views

नई दिल्ली/ देश के लाखों नौकरीपेशा वालों की टेंशन बढ़ने वाली है। अगर आप अपने पीएफ अकाउंट से पैसा निकालने के बारे में सोच रहे हैं तो सबसे पहले यह काम कर लें। नहीं तो आप PF अकाउंट से पैसे नहीं निकाल पाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि हाल ही में कई बैंक मर्ज हुए हैं। ऐसे में समय रहते ये काम नहीं किए तो जीवनभर की जमापूंजी को आप नहीं निकाल पाएंगे। चलिए आपको बताते पूरी प्रोसेस हैं।

दरअसल, कुछ सरकारी बैंकों के मर्जर के बाद उनके IFSC कोड 1 अप्रैल, 2021 अवैध हो गए हैं, जिस वजह से उनके क्लेम पास नहीं हो पा रहे हैं। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन PF अकाउंटहोल्डर्स से कहा है कि पहले वो अपने बैंक खाते की डिटेल्स को प्रॉविडेंट फंड अकाउंट में जाकर अपडेट कर लें। सरकार ने अभी कुछ दिन पहले ही नॉन रिफंडेबल पीएफ एडवांस का ऐलान किया है, ताकी कोरोना महामारी से जूझ रहे लोग पैसों की जरूरतों को पूरा कर सकें। इसके लिए आवेदन ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से किया जा सकता है। लेकिन PF अकाउंट में आपके बैंक खाते की डिटेल अपडेट नहीं है तो आपको क्लेम मिलने में मुश्किल होगी।

इन बैंकों के IFSC कोड करें अपडेट
EPFO की ओर से जारी अलर्ट के मुताबिक आंध्र बैंक, सिंडिकेट बैंक, ऑरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, इलाहाबाद बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, कॉर्पोरेशन बैंकका IFSC कोड (IFSC Code) अमान्य हो गया है। सदस्य नियोक्ता के माध्यम से सही IFSC जोड़े, तब तक कोई ऑनलाइन दावा दाखिल नहीं किया जा सकता है। कृपया अपने बैंक से सही IFSC हासिल करें और उसका विवरण अपलोड और अप्रूव करें। यह सुनिश्चित करेगा कि सदस्यों की दावा राशि बैंकों द्वारा वापस नहीं की गई है

जानें प्रोसेस
अगर आपका खाता इन बैंकों में था जिनका मर्जर हो गया है, तो आपको नए IFSC कोड अपने-अपने बैंक से लेने होंगे. इसके बाद EPFO के आधिकारिक पोर्टल पर जाना होगा. तो चलिए कैसे आप बैंक डिटेल को PF अकाउंट में अपडेट कर सकते हैं।

सबसे पहले EPFO के यूनिफाइड मेंबर पोर्टल https://unifiedportal पर जाएं।
यहां UAN व पासवर्ड डालकर लॉग इन करें।
अब ‘मैनेज’ टैब पर क्लिक करें। आपके सामने एक ड्रॉप डाउन मेन्यू आएगा।
इस मेन्यू में KYC सिलेक्ट करें।
अब बैंक सिलेक्ट करें और बैंक खाता संख्या, नाम और नया IFSC कोड भरें और सेव कर दें।
ये जानकारी पहले आपकी कंपनी अप्रूव करेगी। फिर आपकी अपडेटेड बैंक डिटेल्स अप्रूव्ड KYC सेक्शन में दिखने लगेंगी।

Read More