BreakingChhatisgarh

CG BREAKING/ जीपी सिंह को एन्टी करप्शन ब्यूरो लेकर पहुँची पुलिस… बीते मंगलवार को दिल्ली में हुई थी गिरफ्तारी… बड़ी मात्रा में फोर्स तैनात!!

CG NEWS/रायपुर। लंबे समय से फरार चल रहे पूर्व ACB चीफ GP SINGH को रायपुर पुलिस ने बीते मंगलवार को अपने शिकंजे में ले लिया था। आज उन्हें रायपुर तेलीबांधा स्थित एसीबी कार्यालय लाया गया।

आपको बता दें कि, आज जिस कार्यालय में उन्हें गिरफ्तारी के बाद लाया गया है। वही पुलिस कार्यालय के वह चीफ (प्रमुख) भी रह चुके हैं। उन पर आरोप है कि चीफ रहते हुए धमकी, वसूली, अवांछनीय कार्य के साथ-साथ सरकार के विरुद्ध गतिविधियों में भी शामिल रहा करते थे।

गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए एन्टी करप्शन ब्यूरो के डी आईजी arif shekh ने बताया कि,

आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो रायपुर में अनुपातहीन संपत्ति और भष्टाचार निवारण अधिनियम और धारा 471,467,201 के आरोप में निलंबित आईपीएस GP SINGH को प्रकरण की विवेचना में उपस्थित होने के लिए कई नोटिस जारी किए गए थे, जिसके बाद भी वह विवेचना में सहयोग नहीं कर रहे थे और ना ही EOW कार्यालय में उपस्थित हो रहे थे।

यहाँ यह बताना लाज़मी होगा कि, आरोपी GP SINGH के निवास स्थानों सहित ओड़िसा के ठिकानों पर 1 july2021 को छापा पड़ा था।ACB और EOW की टीम ने एक जुलाई 2021 को जीपी सिंह के रायपुर स्थित सरकारी आवास सहित उनसे जुड़े 15 ठिकानों पर छापा मारा था। तब करीब 68 घंटे चली कार्यवाही के बाद मिले कागजातों के आधार पर जीपी सिंह के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज हुआ था।

जांच में 10 core से भी ज्यादा की अघोषित संपत्ति और सोना चाँदी और जेवरातो की बरामदी की गई थी। जिसकी वे सही जानकारी नहीं दे पाए थे। कारोबारी मित्र प्रीतपाल सिंह चंडोक के घर से तेरह लाख रुपये, राजनांदगांव में चार्टर्ड अकाउंटेंट rajesh bafana के दफ्तर से GP SINGH की पत्नी और बेटों के नाम 79 बीमा पालिसी मिली थी।

Sponsored by

Related Articles

Back to top button
Enable News Updates    OK No thanks