Chhatisgarhरायपुर

कोई काम न मिले तो गोबर बीनिए , 30 हज़ार महीने कमाइए, आगे 2800 में खरीदेंगे धान…! सीएम बघेल…

रायपुर:- छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार को राजधानी रायपुर के पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में आयोजित राष्ट्रीय सहकारी सम्मेलन और राष्ट्रीय पुरस्कार वितरण समारोह में शामिल हुए।

कार्यक्रम में उनहोंने सहकारिता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली संस्थाओं को पुरस्कृत भी किया। इस दौरान सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि कुछ काम नहीं मिलेगा तो गोबर बिन लीजिएगा, 30 हज़ार रुपये महीना मिलेगा। श्री बघेल ने कहा कि मछली पालन और लाख उत्पादन करने वाले किसानों को ब्याज मुक्त ऋण दे रहे हैं। श्री बघेल ने कहा कि सहकारी बैंक किसानों के अपने बैंक हैं। बहुत से सहकारी आंदोलन के चलते किसानों के जीवन में परिवर्तन आया है। हालांकि अब भी सबको जुटना होगा। इसकी मजबूती के लिए यह एक चुनौती है। उसे हमें स्वीकार करना होगा।

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि एक प्रतिस्पर्धा होनी चाहिए कि किस प्रदेश में सहकारिता आंदोलन कहां बढ़ा है। सीएम ने कहा कि बैल बोझ हो गया, दूध नहीं देने वाली गाय अनार्थिक हो गई है। छत्तीसगढ़ ने फैसला किया कि जो मवेशी हैं, उनका गोबर खरीदा जाएगा। हर 15 दिन में खरीदा जाएगा। ऐसी ही उपयोगिता बढ़ाने के लिए बिजली, गुलाल और पेंट बनाने का काम कर रहे हैं। श्री बघेल ने कहा कि हमने गौठान को सहकरिता से जोड़ा, हम इससे सहकारिता के आंदोलन को बढ़ा रहे हैं। इस दौरान सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि दुनिया में कोई सरकार नहीं है, जो छत्तीसगढ़ से ज़्यादा कीमत किसानों को धान के बदले दे रही है। आने वाले समय में धान की कीमत प्रति क्विंटल 2800 रुपये हो जाएगा।

Back to top button