रायगढ़

पूरी मजबूती के साथ लड़ रहे रायगढ़ के अधिवक्ता भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई! संघ का अनिश्चितकालीन आंदोलन अब भी जारी, आज से बैठे है क्रमिक भूख हड़ताल पर..! देखें वीडियो…

Raigarh News. कल मंगलवार को अधिवक्ता संघ की बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें फैसला किया गया था कि, तहसील कार्यालय में चल रहे भ्रष्टाचार के खिलाफ उनके आंदोलन को आगे बढ़ाते हुए जिला न्यायालय के सामने क्रमिक भूख हड़ताल किया जायेगा। जिसके अनुरूप आज जिला न्यायालय के सामने पंडाल में बैठकर सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक क्रमिक भूख हड़ताल किया गया।

आज किए गए भूख हड़ताल में अधिवक्ता संघ नवनिर्वाचित अध्यक्ष रमेश शर्मा, राजश्री अग्रवाल उपाध्यक्ष, शरद पाण्डेय सचिव, महेंद्र प्रधान उपाध्यक्ष, जानकी पटेल कार्यकारिणी सदस्य शामिल हुए।

क्रमिक भूख हड़ताल के संबंध में अध्यक्ष रमेश शर्मा ने बताया कि,

भ्रष्टाचार की लड़ाई को जारी रखने के लिए क्रमिक भूख हड़ताल लगातार किया जायेगा। जिसमें रोज 5 अधिवक्ता शामिल होंगे। क्रमिक भूख हड़ताल का मतलब समझाते हुए उन्होंने बताया कि रोज बारी – बारी 5 लोग भूख हड़ताल पर बैठेंगे।

पूरे प्रदेश भर में आंदोलन की गूंज

आपको बता दे कि, अधिवक्ताओं का यह आंदोलन विगत कई महीनों से चल रहा हैं। जो रायगढ़ तहसील कार्यालय में हुए विवाद से शुरू हुआ था। तहसील कार्यालय में चल रहे भ्रष्टाचार के विरोध का यह आंदोलन जो सड़क से होते हुए राजधानी तक पहुंचा। अधिवक्ताओं का आंदोलन रायगढ़ से शुरू होकर पूरे प्रदेश में फैल गया। रायगढ़ के अलावा प्रदेश के कई जिलों में अधिवक्ताओं ने भ्रष्टाचार के खिलाफ सड़क में उतर कर आंदोलन किया था। यही नहीं इस आंदोलन ने राष्ट्रीय स्तर पर भी सुर्खियां बटोरी। जिसमें राष्ट्रीय अधिवक्ता संघ ने भी अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की थी।

पूरी मजबूती के साथ लड़ रहे अधिवक्ता भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई

महीनों से चल रहा अधिवक्ताओं का आंदोलन कब तक चलता रहेगा। इसका पता आने वाले दिनों में ही चलेगा। लेकिन रायगढ़ अधिवक्ता संघ किसी न किसी तरीके से भ्रष्टाचार की लड़ाई को जारी रखी हुई हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रायगढ़ जिला कलेक्टर इस बारे में उनके प्रतिनिधि मंडल की हालिया बातचीत में उनकी कुछ मांगों पर सहमति हुई थी। लेकिन जब तक पूरी मांगो को लागू नहीं किया जाता, तब तक यह आंदोलन थमता नजर नहीं आ रहा। दिन ब दिन आंदोलन को नए रूपरेखा के साथ पूरी मजबूती के साथ भ्रष्टाचार की इस लड़ाई को अधिवक्ताओं द्वारा लड़ा जा रहा है।

Back to top button