रायगढ़

रायगढ़ कलेक्टर रानू साहू ने बारिश के मौसम में भी ग्रामीण मजदूरों को दिया काम! 24 करोड़ लागत से तैयार होगी 5000 बड़ियां औऱ 11 करोड़ के सड़क किनारे लगेंगे पेड़

  • जिले में तैयार होंगी 5 हजार बाडिय़ां, कलेक्टर रानू साहू ने दी स्वीकृति
  • बारिश में लोगों को मिले रोजगार इसके लिए मनरेगा से स्वीकृत किए गए हैं 30 करोड़ के हितग्राही मूलक कार्य

रायगढ़, 5 अगस्त। कलेक्टर रानू साहू ने ग्रामीण आजीविका संवर्धन की दिशा में महत्वपूर्ण आदेश जारी किया है। उन्होंने बारिश के मौसम में ग्रामीण इलाकों में लोगों को नियमित रूप से रोजगार मिले इसके लिए ग्रामीण क्षेत्रों में निवासरत मजदूरों जो महात्मा गांधी नरेगा योजनांतर्गत पंजीकृत है। उन्हें पर्याप्त मात्रा में वर्षा ऋतु में आवश्यकतानुसार कार्य उपलब्ध कराये जाने हेतु जिले के ग्राम पंचायतों में हितग्राही मूलक 5 हजार 90 बाड़ी विकास के कार्य के लिए 23 करोड़ 64 लाख 21 हजार 900 रुपये की राशि की स्वीकृति दी है। जिससे ग्रामीणों को उनके भूमि पर रोजगार के साथ-साथ आजीविका संर्वधन हो सके।

साथ ही वृक्षारोपण के सड़क किनारे वृक्षारोपण 140 कार्य, पौधे संख्या 44 हजार 889 के लिए 6 करोड़ 39 लाख 34 हजार रुपये एवं ब्लाक वृक्षारोपण के 165 कार्य पौधे संख्या 1 लाख 38 हजार 461 के लिए 4 करोड़ 64 लाख 84 हजार रुपये राशि स्वीकृति दी गई है। जिससे चयनित स्व-सहायता समूह को कार्य एजेंसी बनाकर उनके सीमाओं में आने वाले ग्राम पंचायतों में कार्य करने हेतु कार्य आदेश जारी किया गया है। जिसके तहत गौठान, चारागाह, स्कूल मैदान, नहर किनारे, तालाब किनारे स्व-सहायता समूह के सदस्यों के कार्य स्वीकृत किये गये है। जिससे ग्रामीण मजदूरों के साथ-साथ चयनित स्व-सहायता समूह के आजीविका में सुधार हो सके एवं बरसात में महात्मा गांधी नरेगा योजनांतर्गत मजदूरों को पर्याप्त मात्रा में कार्य प्रदाय की जा सके।

Back to top button