Videoरायगढ़

Raigarh News: ऑक्सिजोन और ट्रांसपोर्ट नगर का निरीक्षण ! शेड निर्माण कार्य करें जल्द पूर्ण- कमिश्नर मिश्रा !


Raigarh News: मेयर श्रीमती जानकी काटजू और कमिश्नर संबित मिश्रा ने रविवार अवकाश के दिन भी निगम के क्षेत्र अंतर्गत चल रहे कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने ट्रांसपोर्ट नगर और मरीन ड्राइव स्थित ऑक्सीजोन का निरीक्षण किया। इस दौरान कमिश्नर ने ट्रांसपोर्ट नगर एसएलआरएम सेंटर में शेड निर्माण कार्य को जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए।


निगम प्रशासन द्वारा अवकाश के दिनों भी कार्य प्रगति का निरीक्षण किया जा रहा है। मेयर श्रीमती जानकी काटजू कमिश्नर संबित मिश्रा ने ट्रांसपोर्ट नगर स्थित एसएलआरएम सेंटर का निरीक्षण किया। उन्होंने गोबर खरीदी केंद्र और गोबर से वर्मी कंपोस्ट तैयार करने की तकनीक और अब तक हुए वर्मी कंपोस्ट की मात्रा एवं महिला स्व सहायता समिति द्वारा तैयार किए गए अन्य एक्टिविटीज की जानकारी ली। इस दौरान वर्मी कंपोस्ट निर्माण के लिए डीएमएफ से तैयार किए जा रहे शेड निर्माण के कार्यों की भी जानकारी ली गई।

कमिश्नर संबित मिश्रा ने शेड निर्माण के कार्यों में तेजी लाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। इसके बाद मरीन ड्राइव स्थित ऑक्सीजोन एवं एसटीपी के कार्यों का जायजा लिया गया। पूर्व में यहां एसटीपी के प्लांट स्थापित करने खुदाई की गई थी। इसपर कमिश्नर मिश्रा ने जोन क्रमांक 5 को पर्यावरण दिवस के दिन मरीन ड्राइव क्षेत्र में वृहद रूप से पौधरोपण करने के निर्देश दिए। इसके लिए कार्यपालन अभियंता नित्यानंद उपाध्याय को कार्य योजना बनाने की बात कमिश्नर मिश्रा ने कही। निरीक्षण के दौरान एल्डरमैन वसीम खान, कांग्रेस नेता शाखा यादव सहित निगम के अधिकारी जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

32 लाख के नाला निर्माण कार्य का किया गया भूमि पूजन


रविवार को विधायक प्रकाश नायक, मेयर श्रीमती जानकी काटजू एमआईसी सदस्य रत्थू जायसवाल, संजय चौहान कांग्रेस, कोंग्रेस जिला अध्यक्ष अनिल शुक्ला, कांग्रेस नेता शाखा यादव व अन्य जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में फटहामुड़ा तालाब के पास 32 लाख रुपए की लागत से बनने वाले नाला निर्माण का भूमि पूजन किया गया। इस दौरान विधायक प्रकाश नायक और मेयर श्रीमती जानकी काटजू वह अन्य जनप्रतिनिधियों ने विधिवत पूजा अर्चना कर कार्य का शुभारंभ किया और पूर्ण गुणवत्ता के साथ कार्य को समय सीमा के भीतर पूर्ण करने के निर्देश संबंधित ठेकेदार व अधिकारियों को दिए।

Back to top button