रायगढ़

Raigarh News: अंबिकापुर के व्यवसायी से 40 लाख की धोखाधड़ी करने वाले दो आरोपी गिरफ्तार ! अन्य व्यक्तियों के साटगांठ की जांच कर रही पुलिस ! नकदी, मोबाइल और स्कूटी जप्त !

Raigarh News: अंबिकापुर के व्यवसाई से 40 लाख की धोखाधड़ी करने वाले दो आरोपियों को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर रिमांड पर जेल भेजा है। आरोपियों से नगदी 5.65 लाख रु, दो मोबाइल व स्कूटी जप्त की गई है। कोतवाली पुलिस द्वारा आरोपियों के साथ अन्य व्यक्तियों के साथ गार्ड की जांच की जा रही है।

जानकारी के अनुसार कल व्यवसायी अमर अग्रवाल निवासी बरम रोड अंबिकापुर द्वारा कोतवाली थाने में धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। जिनके द्वारा शिकायत में बताया गया था कि वह अपने कुछ साथियों के साथ मिल कर लोहे एवं कोयले का व्यवसाय करता है। जो रायगढ़ में रहने वाले अपने मित्र सुनील अग्रवाल के यहां काम करने वाला शुभम अग्रवाल से अपने कार्यों में सहायता लेता था।

कई जगह से इकट्ठा किया था 40 लाख 4 हजार रु

18 अप्रैल को अमन अग्रवाल अपने और कुछ साथियों के करीब 40 लाख 4 हजार रु को शुभम के द्वारा कई स्थानों से इकट्ठा करवाया गया था जो शुभम के पास रखा हुआ था। इकट्ठे हुए पैसे को अमन अग्रवाल अंबिकापुर लाने के लिए बोला था। उन्होंने यह भी कहा था कि अगर पैसा को अंबिकापुर नहीं ला पा रहे हो तो रायगढ़ के अनूप बंसल के ऑफिस में छोड़ देना।

थैला में रखें पैसा CMO तिराहा के पास गिर जाने की बनावटी बात

दूसरे दिन 19 अप्रैल को जब अमन अग्रवाल ने शुभम अग्रवाल को मोबाइल पर संपर्क करने की कोशिश की तो शुभम फोन नहीं उठाया। अगले सुबह जब अमन अग्रवाल की शुभम से बात हुई तो उन्होंने 18 अप्रैल को रुपए वाला थैला सीएमओ तिराहा के पास गिर जाने की बात कही। शुभम ने बताया कि रुपयों से भरा बैग को अपने साथी जितेंद्र तारलेजा के साथ 18 अप्रैल को अनूप बंसल के ऑफिस में छोड़ने जा रहा था, तभी सीएमओ तिराहा के पहले कहीं बैग गिर गया। जो बात रिपोर्ट करता अमन अग्रवाल को बनावटी लगी। क्योंकि 18 से 20 अप्रैल की शाम तक इस बात की जानकारी शुभम ने नहीं दी थी।

पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेकर की पूछताछ

मामला दर्ज होने के बाद कोतवाली पुलिस ने दोनों संदेहियों को तत्काल हिरासत में लिया। जिनसे पूछताछ करने पर पैसों से भरा बैग कहीं गिर जाने की बात कहने लगे। पुलिस ने जब दोनों को अलग अलग रखकर पूछताछ की तो दोनों के बातों में विरोधाभास सामने आई।

जितेंद्र तरलेजा ने ऊगली सच्चाई

पुलिस द्वारा कड़ाई से पूछताछ की गई तो जितेंद्र ने शुभम अग्रवाल की पूरी प्लानिंग को सामने लाया। उसने बताया कि शुभम द्वारा उसे डेढ़ लाख रुपए देने की बात बताया। जिस पर शुभम भी अपराध स्वीकार कर व्यवसायी अमन अग्रवाल के 40 लख रुपये पर नियत खराब होना और 40 लाख रुपयों का काफी पैसा जुआ में हार जाना बताया।

घटना में शामिल अन्य लोगों की जांच जारी

कोतवाली पुलिस द्वारा शुभम अग्रवाल के जुआ के अलावा अन्य कहां रुपुए खपाये गए हैं म इसकी विवेचना की जा रही है। मामले में कुछ अन्य लोगों के नाम भी सामने आया है जिस पर जांच जारी है।

अपराध में संलिप्त आरोपी (1) शुभम अग्रवाल पिता संजय अग्रवाल उम्र 25 साल निवासी बैकुंठपुर थाना सिटी कोतवाली रायगढ़ (2) जितेंद्र तालरेजा पिता शंकरलाल तालरेजा उम्र 40 वर्ष निवासी सिंधी कॉलोनी पक्की खोली थाना चक्रधरनगर रायगढ़ को गिरफ्तार कर ज्युडिसियल रिमांड पर भेजा गया है ।

Back to top button