National

Battlegrounds Mobile India: 12 साल के बच्चे ने BGMI गेम खेलने के लिए रुकवा दी ट्रेन, मच गया स्टेशन में हड़कंप !पढ़े पूरी ख़बर…

बेंगलुरु न्यूज़. बच्चों के अंदर मोबाइल गेम खेलने का इतना लत बढ़ गया हैं। की वो गेम खेलने के लिए किसी भी हद तक चले जाते हैं। ऐसा ही एक कारनामा 12 के बच्चे ने किया हैं। जिससे पूरे रेलवे स्टेशन में हड़कंप मच गया। और घंटो तक ट्रेन को रोककर रखा गया।

दरअसल बेंगलुरु के यलहंका रेलवे स्टेशन पर 30 मार्च को दिन के 2 बजे हेल्प लाइन नंबर 139 पर एक फोन कॉल आया जिसमें कहा गया कि रेलवे स्टेशन पर बम रखा है।

फोन कॉल के बाद खाली कराया गया स्टेशन

रेलवे स्टेशन पर बम होने की जानकारी मिलते ही पुलिस (Police) हरकत में आई। और आनन-फानन में पूरे स्टेशन को खाली कराया गया। पुलिस ने चप्पा-चप्पा छान मारा लेकिन हाथ कुछ नहीं लगा। इस पूरे घटनाक्रम में करीब 90 मिनट का वक्त बेकार हो गया। पुलिस ने फोन नंबर की पड़ताल की तो पाया कि पास के ही विनायक नगर के एक किराना दुकानदार के फोन नंबर से यह कॉल की गई थी।

12 साल के बच्चे ने की थी कॉल

दुकानदार ने अपने 12 साल के बेटे को ये फोन दिया हुआ था और ये कॉल उसके बेटे ने ही की थी। पुलिस ने जब इस बच्चे से कॉल करने की वजह पूछी तो पता चला कि वो अपने दोस्त के साथ पब जी गेम (BGMI Game) खेल रहा था। और उस समय उसका दोस्त अपने परिवार के साथ यलहंका रेलवे स्टेशन पर काचेगुड़ा एक्सप्रेस ट्रेन में सवार था।

12 साल के बच्चे ने की थी कॉल

फोन करने वाला 12 साल का बच्चे को यह पता था। की ट्रेन चलने के बाद उसके दोस्त को नेटवर्क नहीं मिलेगा। जिससे वह उसके साथ गेम नहीं खेल सकता था। जबकि वो कुछ देर और खेलना (Play Game) चाहता था। ऐसे में उसने एक फोन कॉल कर ट्रेन को रुकवा लिया। पुलिस ने 12 साल के बच्चे के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की और उसे चेतावनी (Warning) देकर छोड़ दिया। बता दें कि बम स्क्वॉड ने 4.45 मिनट पर क्लियरेंस सर्टिफिकेट दिया जिसके बाद ही ट्रेन की आवाजाही शुरू हो सकी।

Back to top button