National

IE100: तीसरी सबसे ताकतवर शख्सियत मोहन भागवत, पांचवें पर मुकेश अंबानी तो 13वें पायदान से छठे पर पहुंचे योगी आदित्यनाथ

भारत के 100 सबसे शक्तिशाली लोगों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले स्थान पर काबिज हैं। बता दें कि इंडियन एक्सप्रेस के 100 पॉवरफुल लोगों की सूची में कई नाम ऐसे हैं जिनकी स्थिति में काफी उछाल देखने को मिला है। इसमें अमित शाह, योगी आदित्यनाथ, आरएसएस के मोहन भागवत, मुकेश अंबानी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और सपा प्रमुख अखिलेश यादव भी शामिल हैं।

पीएम मोदी: IE100 की लिस्ट में पहले पायदान पर पीएम मोदी काबिज हैं। दरअसल कोरोना महामारी से पैदा हुए संकट और उसके लिए लगने वाली वैक्सीन का प्रबंधन, पश्चिम बंगाल में भाजपा की मजबूत होती स्थिति से पीएम मोदी की छवि में निखार आया है। इसके अलावा अभी हाल ही में हुए 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों में 4 में भाजपा ने शानदार वापसी की है। जिसकी वजह से भाजपा में जोश देखा जा रहा है।

गौरतलब है कि इन सबके पीछे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चेहरा अहम है। वहीं रूस और यूक्रेन के बीच हो रहे युद्ध के दौरान 22,000 भारतीयों को युद्ध क्षेत्र से बाहर निकालना, पीएम मोदी की जबरदस्त कूटनीतिक सफलता मानी जा रही है। बता दें कि 2021 में भी पीएम मोदी इस सूची में पहले पायदान पर थे।

अमित शाह: इस लिस्ट में दूसरे पायदान पर देश के गृह मंत्री अमित शाह हैं। माना जाता है कि जेपी नड्डा के भाजपा अध्यक्ष होने के बावजूद अमित शाह का पार्टी में काफी प्रभाव है। केंद्रीय गृह मंत्री के रूप में, वह सरकार में प्रभावी नंबर 2 बने हुए हैं। यूपी चुनाव में अमित शाह की रणनीति भी काफी असरदार रही।

किसान आंदोलन के चलते पश्चिमी यूपी में पार्टी को हो रहे नुकसान के बीच अमित शाह की सक्रियता भाजपा के लिए फायदेमंद साबित हुई। वहीं 2021 की बात करें तो अमित शाह तब भी दूसरे नंबर पर थे।

मोहन भागवत: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत इस लिस्ट में तीसरे नबंर पर हैं। दरअसल भाजपा में मोदी-शाह की मजबूत जोड़ी के बाद भी संघ भाजपा के लिए लगातार मजबूत ढाल के रूप में देखा जा रहा है। ऐसे में पार्टी को मजबूत करने के लिए जमीनी स्तर पर संघ लगातार सक्रिय है। पिछले साल की सूची में भी आरएसएस प्रमुख तीसरे नंबर पर थे।

जेपी नड्डा: भाजपा के मौजूदा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा इस सूची में चौथे स्थान पर काबिज हैं। उनकी अगुवाई में पश्चिम बंगाल में भाजपा को हार का सामना तो करना पड़ा लेकिन हाल ही में पांच राज्यों में से चार राज्यों में भाजपा ने जीत हासिल की है। इसमें राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण उत्तर प्रदेश भी शामिल है। वहीं 2021 में भी जेपी नड्डा चौथे नंबर पर थे।

मुकेश अंबानी: रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन और एमडी मुकेश अंबानी 2021 और 2022 की सबसे पॉवरफुल लोगों की लिस्ट में पांचवे नंबर रहे हैं। फोर्ब्स के मुताबिक मुकेश अंबानी के पास 96 बिलियन डॉलर से अधिक की कुल संपत्ति है। वह सबसे अमीर भारतीय हैं। मुकेश अंबानी ने पिछले कुछ वर्षों में दूरसंचार, खुदरा और ऊर्जा क्षेत्रों में कई डील्स किए हैं।

योगी आदित्यनाथ: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ इस सूची में इस बार छठें स्थान पर हैं। वहीं 2021 में वो 13वें नबंर थे। यूपी में 1985 के बाद से सीएम योगी लगातार पांच साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद सत्ता में लौटने वाले पहले मुख्यमंत्री बने हैं। हालांकि उनके सामने 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले यूपी में भाजपा की मजबूत स्थिति बनाने की चुनौती होगी।

गौतम अडानी: भारतीय उद्योगपति गौतम अडानी इस सूची में सातवें स्थान पर हैं। इससे पहले 2021 में वो दसवें पायदान पर रहे थे। उन्होंने कम समय में ही 100 अरब डॉलर से अधिक की वैल्यू वाले भारतीय व्यापार समूह को तैयार किया। अडानी को लेकर कहा जाता है कि वो सत्ता के करीब हैं। उनके कारोबार में बंदरगाह, हवाई अड्डों, बिजली, शहर गैस वितरण और नवीकरणीय ऊर्जा के साथ एक बुनियादी ढांचा प्रमुख है।

अडानी ग्रुप सात हवाई अड्डों के आधुनिकीकरण और संचालन के अधिकार प्राप्त करने वाला सबसे बड़ा हवाई अड्डा परिचालक है। अडानी ग्रुप के पास सबसे बड़ी निजी बिजली कंपनी है और यह भारत के सबसे बड़े कमर्शियल बंदरगाह को संभालती है।

अजीत डोभाल: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बेहद करीबी माने जाने वाले देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल इस सूची में आठवें नंबर पर हैं। बता दें कि डोभाल मोदी सरकार में सबसे शक्तिशाली अधिकारी माने जाते हैं। राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रबंधन में उनका लंबा अनुभव है। जिसका फायदा मोदी सरकार को देश और विदेश में चुनौतियों का सामना करने में मिलता है।

डोभाल न केवल चीन और पाकिस्तान पर बल्कि देश और कश्मीर में सुरक्षा से संबंधित मामलों की देखरेख करते हैं। वह अगले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ को नियुक्त करने के निर्णय पर एक प्रमुख भूमिका निभाएंगे। डोभाल रूस-यूक्रेन संकट पर प्रमुख निर्णय लेने वालों में से एक रहे हैं। वहां फंसे हुए भारतीयों को निकालने में उनकी अहम भूमिका देखी गई। 2021 में अजीत डोभाल इस सूची में सातवें स्थान पर थे।

अरविंद केजरीवाल: आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 100 सबसे शक्तिशाली लोगों की लिस्ट में 9वें नंबर पर हैं। 2022 में उनकी स्थिति में काफी सुधार हुआ है। बता दें कि 2021 में इस सूची में केजरीवाल 27वें नंबर पर थे। हाल ही में पंजाब विधानसभा चुनाव में आप की दमदार जीत के साथ, आम आदमी पार्टी प्रमुख केजरीवाल भाजपा के खिलाफ विपक्ष की एक मजबूत आवाज बनकर उभरे हैं।

100 सबसे शक्तिशाली लोगों की सूची में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 10वें, ममता बनर्जी 11वें स्थान पर हैं। वहीं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह 13वें, उद्धव ठाकरे 16वें, शरद पवार 17वें, सोनिया गांधी 27वें, राहुल गांधी 51वें और अखिलेश यादव 56वें स्थान पर हैं।

स्त्रोत: जनसत्ता

Back to top button