रायगढ़/ कोविड प्रोटोकॉल को लेकर रायगढ़ पुलिस होगी अब और भी सख्त ! एसपी संतोष सिंह ने अधिकारियों और थाना प्रभारियों को दिए स्पष्ट निर्देश ! कॉलोनियों के बाहर इवनिंग वॉक को निकली महिलाओं पर भी होगी चलानी कार्रवाई ! बैरियर पर बढ़ेगी मुस्तैदी! और भी बहुत कुछ.. पढ़े पूरी खबर..

2,717 views
  • कंटेनमेंट जोन और इंटर स्टेट बेरियर की सुरक्षा बेहद महत्वपूर्ण, लॉकडाउन में जुर्माने और एफआईआर बढ़ने चाहिये – संतोष सिंह

रायगढ़, 06 मई। आज पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह द्वारा जिले के सभी राजपत्रित पुलिस अधिकारियों, थाना व चौकी प्रभारियों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए वर्चुअल मीटिंग ली गई है। पुलिस प्रशासन की तरफ से जारी विज्ञप्ति में बताया गया कि पुलिस अधीक्षक द्वारा लॉकडाउन के बावजूद संक्रमण के फैलाव को देखते हुए अफसरों को और भी ज्यादा सख्ती बरतने की आवश्यकता है। साथ ही जरूरतमंदों एवं मेडिकल सुविधा के लिए संपर्क करने वालों की अधिक से अधिक मदद करने के भी निर्देश भी दिए गए हैं। रायगढ़ जिला में कोरोना के मद्देनजर पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह ने सख्ती के साथ वर्चुअल मीटिंग में कई बड़े महत्वपूर्ण निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। आइए जानते हैं पुलिस अधीक्षक ने किन किन विषयों पर थाना, चौकी प्रभारियों व राजपत्रित अधिकारियों को निर्देश दिया है।

बाहरी व्यक्ति का कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव होना अनिवार्य है तभी जिले में मिलेगा प्रवेश

एसपी संतोष सिंह ने इंटर स्टेट चेक पाइंट की सुरक्षा को बेहद महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि अधिकारियों को लगातार पेट्रोलिंग एवं रात्रि के समय स्टाफ को चेक करना अनिवार्य है। प्रत्येक बेरियर में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की रजिस्टर में एंट्री होना जरुरी है। दूसरे राज्यों से आ रहे लोगों के पास कोविड टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट होनी अनिवार्य है। पॉजिटिव रिपोर्ट वाले व्यक्तियों को सीधे क्वारेंटिन सेंटर भेजा जावे।

इंटर स्टेट बेरियर में पुलिस की जांच के साथ टेस्टिंग की व्यवस्था है, जिसे देख बाहर से आने वाले लोग गांव के कच्चे रास्ते, पगडंडियों का प्रयोग करेंगे इसलिए गांव में ग्राम प्रमुख, रक्षा टीम के सदस्यों, पुलिस मित्रों को आने वाले लोगों की मनाही के लिए नियुक्त करें, उनसे सहयोग लेवे।

कॉलोनी के बाहर घूमने पर महिलाओं पर कार्यवाही करने एवं फुटकर विक्रेताओ को दें समझाईश, न मानने पर करें कार्यवाही

पुलिस अधीक्षक द्वारा थाना, चौकी प्रभारियों को बताया गया कि मॉर्निंग, इवनिंग वॉक पर निकले केवल पुरुषों पर कार्यवाही हो रही है, जबकि महिलाओं को बिना कार्यवाही छोड़ा जा रहा है। ऐसा ना हो बेवजह बाहर निकली महिलाओं पर भी जुर्माने की कार्यवाही होनी चाहिए। कॉलोनियों में लोगों के बाहर चहल पहल की शिकायतें आ रही है इस पर प्रभारीगण कॉलोनियों में अनिवार्य रूप से पेट्रोलिंग कर कार्यवाही करें। किराना दुकानों वाले फुटकर सामान बेचने तथा सब्जी, फल बेचने वाले एक ही निश्चित स्थान पसरा के रूप में बनाकर सब्जी बेच रहे हैं जो अनुचित है ऐसे सब्जी, ठेले वालों को समझाइश देवे तथा समझाइश को नजरअंदाज करने पर कार्यवाही करें।

कन्टेन्टमेंट जोन का उल्लंघन किसी भी स्थिति में न हो

थाना व चौकी प्रभारियों को को एसपी द्वारा निर्देशित किया गया है संक्रमण को रोकने के लिए क्वारंटाइन सेंटर, कंटेनमेंट जोन की लिस्टिंग तैयार कर प्रत्येक कंटेनमेंट जोन वाहन में लाउडस्पीकर के जरिए थाना प्रभारी व थाने का नंबर लोगों को मुहैया कराएं तथा वहां किसी प्रकार की जरूरत पड़ने पर सुविधाएं उपलब्ध करावें । किसी भी स्थिति में कंटेनमेंट जोन का उल्लंघन ना हो, कंटेनमेंट जोन  बनाये गये गांव के बाहर एंट्री पॉइंट में “कंटेनमेंट जोन” का पोस्टर लगा हुआ होना चाहिये, “कंटेनमेंट जोन” में आने जाने वाले मार्गो में अवरोध करें और कंटेनमेंट जोन से बाहर बेवजह निकले लोगों पर सीधे कार्यवाही की जावे, इसी प्रकार होम आइसोलेशन के लोगों के बाहर घूमने की शिकायत पर कार्यवाही करें । गांव में तेंदूपत्ता संग्रहण दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करावे।

कोविड हॉस्पिटल के अलावा निजी हॉस्पिटल में भी व्यवस्था बनाए रखने के लिए लगाये जाए पुलिस बल, ड्यूटी पर न बरतें कोताही वरना होगी दंडात्मक कार्यवाही 

पुलिस अधीक्षक द्वारा कोविड केयर अस्पतालों के साथ निजी हॉस्पिटलों में भी बल लगाने के निर्देश दिए गए हैं जिससे किसी भी हॉस्पिटल में अव्यवस्था ना हो । उनके द्वारा सभी थानाक्षेत्र में बनाये गये चेकप्वाइंट से स्टाफ को बदली कर जवानों को मुस्तैदी से ड्यूटी करने के निर्देश दिए गए । कापू क्षेत्र के बंधनपुर बेरियर में आकस्मिक चेकिंग दौरान उपस्थित कर्मचारियों को ईनाम देने आदेश जारी करना बताये साथ ही ड्यूटी में कोताही बरतने वालों पर दंडात्मक कार्यवाही की चेतावनी दी गई।

कोविड के विषय में ग्रामीण क्षेत्रों में जागरूकता लाने हेतू करें पहल व पुलिस हेल्प डेस्क की मदद से जरूरतमंदों की करें मदद

पुलिस अधीक्षक द्वारा राजपत्रित अधिकारियों को गांव में कार्यवाही के साथ लोगों को जागरूक किये जाने की आवश्यकता बताए। प्रभारियों को उनके क्षेत्र के इंडस्ट्रीज पर भी नियमित जांच के शादी घरों में कार्यवाही के निर्देश दिये गये हैं। पुलिस हेल्प डेस्क से जारी जरूरतमंदों की मदद हर गांव तक पहुंचे किसी प्रकार की मदद की कॉल पर प्रभारी जिम्मेदारी पूर्वक मदद करें। लोगों की आर्थिक मदद, हॉस्पिटलाइज, ऑक्सीजन, एंबुलेंस आदि में मदद किया जावे।

इस मीटिंग के दौरान एसपी संतोष सिंह ने थाना व चौकी प्रभारियों को स्टाफ के स्वास्थ्य एवं अन्य किसी भी प्रकार की समस्या को संज्ञान में लाने तथा सभी अधिकारी व जवानों को नकारात्मक विचारों से बचते हुए सकारात्मक रूप से कार्य करने के लिये प्रेरित किया। वर्चुअल मीटिंग में सभी राजपत्रित अधिकारी एवं थाना, चौकी प्रभारीगण अपने कार्यालय, थाना, चौकी से ऑनलाइन जुड़े थे और सभी ने एसपी के निर्देशों का 100% पालन सुनिश्चित करने हेतु कार्य करने की बात कही है।

Read More