रायगढ़/ डॉक्टर, कंपाउंडर और परिजनों द्वारा आदिवासी महिला से जमीन हड़पने के सनसनीखेज मामले में बड़ी खबर! कुछ ही देर में आने वाला है आरोपी की जमानत पर कोर्ट का फैसला..

1,361 views

रायगढ़। आयुर्वेदिक डॉक्टर, उसके कंपाउंडर और परिजनों द्वारा एक आदिवासी महिला से जमीन हड़पने के सनसनीखेज मामले में एक बड़ी खबर बाहर निकल कर आ रही है। आरोपी डॉक्टर के परिजनों एक अमीर उल्ला खान की जमानत अर्जी के लिए आज रायगढ़ जिला न्यायालय में अपील की है। मामले की गंभीरता को देखते हुए अदालत द्वारा पीड़ित पक्ष को भी जमानत के समय उनका पक्ष सुनने के लिए बुलाया है। थोड़ी देर में जमानत पर अदालत अपना फैसला देने वाली है।

आपको बता दें कि वर्ष 2012 में धर्मजयगढ़ के एक छोटे से गांव खम्हार में रहने वाली आदिवासी महिला चारमती की धर्मजयगढ़ में ही तुर्रापारा में 18381 स्क्वायर फुट की बेशकीमती जमीन थी। आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ खुर्शीद खान और उनके भाई नूर उल्लाह खान, अमीर उल्लाह खान द्वारा पीड़ित महिला से जमीन की फौती दर्ज कराने के नाम पर कोरे स्टांप पेपर पर उसके अंगूठे का निशान ले लिया गया। इस कोरे स्टाम्प पर आरोपी पक्ष ने अपने कंपाउंडर मृणाल मल्लिक को पीड़ित महिला और उसके सह खातेदार का आम मुख्तियार बना दिया। इसके बाद सारी जमीन डॉक्टर ने अपने और अपने भाई के नाम रजिस्ट्री करवा कर हड़प ली।

महिला द्वारा इनके खिलाफ कई जगह 9 साल तक चक्कर काटने के बाद न्याय के लिए अदालत की शरण में आना पड़ा। अदालत में पीड़िता की तरफ से सीनियर एडवोकेट अशोक मिश्रा के निर्देशन में एडवोकेट आशीष मिश्रा द्वारा मुकदमा किया गया था। 4 माह में ही यायालय के आदेश के बाद डॉ खुर्शीद खान, उनके भाई नूर उल्लाह खान, अमीर उल्लाह खान और कंपाउंडर मृणाल मल्लिक के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 120B, 294, 506, एट्रोसिटी एक्ट 3(1) (5), और 3 (1) 10 के तहत अपराध दर्ज किया गया है।

अपडेट खबर

रायगढ़/ डॉक्टर, इंजीनियर और कंपाउंडर द्वारा आदिवासी महिला से जमीन हड़पने के सनसनीखेज मामले में विशेष सत्र न्यायाधीश एट्रोसिटी रायगढ़ ने दिया फैसला.. आरोपी इंजीनियर की अग्रिम जमानत खारिज!

संबंधित खबर

रायगढ़/ आदिवासी महिला को इंसाफ की पहली सीढ़ी मिलने में ही लग गए बरसो! 9 साल के बाद आरोपी डॉक्टर कंपाउंडर और उसके भाइयों पर दर्ज हुई F.I.R.. सीनियर एडवोकेट अशोक मिश्रा और आशीष मिश्रा ने महिला की ओर से दायर किया था मुकदमा.. 4 माह के भीतर कोर्ट ने दिया F.I.R. का आदेश.. पढ़िये जिले सनसनीखेज मामले की इनसाइड स्टोरी..

Read More

Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ / अस्पताल खुद है बीमार… कैसे होगा मरीजों का इलाज..! रायगढ़ मेडिकल कॉलेज में प्लास्टर गिरा,मरीज सहित तीन घायल..! यहां मौत के साय में गढ़ा जा रहा नौनिहालों का भविष्य..! स्कूल की छत का प्लास्टर गिरने से 6 मासूम घायल… दो की हालत गंभीर..!