रायगढ़ / नेशनल लोक अदालत में पक्षकारों के राजीनामा के आधार पर हुआ प्रकरणों का निपटारा..! आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पद के लिए आवेदन आमंत्रित..! उमेश पटेल ने 1 करोड़ 30 लाख के विकास कार्यों का किया लोकार्पण व भूमिपूजन..! एक क्लिक और पढ़ें विस्तार से…

नेशनल लोक अदालत में पक्षकारों के राजीनामा के आधार पर हुआ प्रकरणों का निपटारा
रायगढ़, 13 सितम्बर2021/ नेशनल लोक अदालत, जो इस बार विशेष हाईब्रीड लोक अदालत के रूप में वर्चुअल एवं फिजिकल दोनों माध्यमों से जिला न्यायालय रायगढ़ सहित तहसील न्यायालय सारंगढ़, घरघोड़ा, धरमजयगढ़ एवं खरसिया में आयोजित किया गया। जिला एवं तहसील न्यायालयों को मिलाकर कुल 20 खण्डपीठों का गठन किया गया। श्रम न्यायालय एवं किशोर न्याय बोर्ड हेतु पृथक खण्डपीठ का गठन किया गया। राजस्व न्यायालयों में कुल 30 खण्डपीठों का गठन किया गया।
जिला एवं तहसील न्यायालयों में विभिन्न प्रकृति के राजीनामा योग्य मामले जैसे-मोटर दुर्घटना दावा प्रकरण, बैंक वसूली के प्रकरण, आपराधिक मामले, विद्युत मामले, श्रम विवाद, पारिवारिक विवाद, चेक अनादरण, सिविल मामले के साथ-साथ इस बार आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 एवं अन्य छोटे अपराधों के मामले, जिसमें यातायात उल्लंघन के मामलों को भी शामिल करते हुए खण्डपीठों में लंबित प्रकरण 3036 एवं प्रीलिटिगेशन प्रकरण 7037 को राजीनामा के आधार पर निराकरण हेतु लोक अदालत में रखा गया।
रखे गये कुल 10073 प्रकरणों में से लंबित 1705 एवं प्रीलिटिगेशन 257 प्रकरण निराकृत हुये। इस प्रकार कुल 1962 प्रकरणों का निराकरण, जिला न्यायालय, परिवार न्यायालय, श्रम न्यायालय, किशोर न्याय बोर्ड, रायगढ़ एवं तहसील स्थित व्यवहार न्यायालय सारंगढ़, घरघोड़ा, धरमजयगढ़ एवं खरसिया न्यायालय में राजीनामा के आधार पर किया गया और उन प्रकरणों के अंतर्गत कुल 2 करोड 84 लाख 86 हजार 693 रूपये का सेटलमेंट हुआ।
राजस्व न्यायालयों में खातेदारों के मध्य आपसी बंटवारे के मामले, वारिसों के मध्य बंटवारे के मामले, कब्जे के आधार पर बंटवारा के मामले, दण्ड प्रक्रिया संहिता 145 के कार्यवाही के मामले, विक्रयपत्र/दानपत्र/वसीयतनामा के आधार पर नामान्तरण के मामले एवं शेष अन्य प्रकृति के कुल 3488 मामले रखे गये जिनमें से 3419 मामलों का निराकरण आज की लोक अदालत में राजस्व न्यायालय की गठित कुल 30 खण्डपीठ द्वारा किया गया।
राजीनामा योग्य प्रकरणों के निराकरण के अतिरिक्त इस हाईब्रीड लोक अदालत में विशेष यह रहा कि विशेष मजिस्ट्रेट की बैठक द्वारा दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा-321, धारा-258 के अन्तर्गत एवं अन्य छोटे मामलों का जिसमें धारा 188 भा.द.सं. के अन्तर्गत वापसी के प्रकरण और आपदा प्रबन्धन अधिनियम 2005 के मामलों को शामिल कर, उनका भी निराकरण किया गया। विशेष मजिस्ट्रेट की बैठक द्वारा संपूर्ण जिला एवं तहसील न्यायालयों में कुल 1303 प्रकरणों को निराकरण हेतु रखा गया जिसमें से 1180 प्रकरणों का निराकरण किया गया।  
नेशनल लोक अदालत में राजीनामा हेतु न्यायालय में आने वाले पक्षकारों के लिये कोविड संक्रमण से बचाव हेतु सेनिटाइजर एवं मास्क की सुविधा उपलब्ध कराई गई। न्यायालय परिसर में जगह-जगह पीने के पानी की व्यवस्था की गई। समग्र यात्री जन कल्याण एवं सेवा समिति, रायगढ़ तथा समस्त बस आपरेटरों के द्वारा लोक अदालत में आने वाले पक्षकारों को न्यायालय के माध्यम से मुहर लगी नोटिस दिखलाये जाने पर उन्हें नि:शुल्क बस सेवा सुविधा उपलब्ध कराई गई। मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी रायगढ़ की ओर से जिला रायगढ़, सारंगढ़, घरघोड़ा, धरमजयगढ़ एवं खरसिया के न्यायालयीन परिसर में नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा एवं कोविड टीकाकरण (प्रथम एवं द्वितीय डोज) की भी व्यवस्था की गई थी। जिसमें विशेषकर वृद्धजनों के स्वास्थ्य की जॉच की गई व नागरिकों द्वारा कोविड-19 टीकाकरण का लाभ भी लिया गया।  

जिले में 807.5 मि.मी.औसत वर्षा दर्ज
रायगढ़, 13 सितम्बर2021/ चालू वर्षा मौसम में रायगढ़ जिले में 13 सितम्बर तक 807.5 मि.मी.औसत वर्षा दर्ज की गई है। बीते 24 घंटे में जिले में 24.6 मिली मीटर औसत वर्षा हुई है। भू-अभिलेख शाखा से प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक जिले के रायगढ़ तहसील में 826 मिली मीटर, पुसौर में 943.2, खरसिया में 735.4, सारंगढ़ में 860.8, बरमकेला में 685.4, घरघोड़ा में 794.2, तमनार में 727.4, लैलूंगा में 824.3 तथा धरमजयगढ़ तहसील में 871 मिली मीटर वर्षा दर्ज की गई है।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पद के लिए 23 सितम्बर तक दावा-आपत्ति आमंत्रित
रायगढ़, 13 सितम्बर2021/ एकीकृत बाल विकास परियोजना रायगढ़ ग्रामीण अंतर्गत आंगनबाड़ी केन्द्र ग्राम-नवापारा, ग्राम पंचायत छुहीपाली में आंगनबाडी कार्यकर्ता पद के लिए जारी प्राविधिक/ अनंतिम मूल्यांकन पत्रक के आधार पर 23 सितम्बर 2021 सायं 5.30 बजे तक दावा-आपत्ति मंगाए गए है। दावा-आपत्ति हेतु आवेदन सीधे एकीकृत बाल विकास परियोजना रायगढ़ ग्रामीण में परियोजना अधिकारी के पास जमा कर सकते है। अंतिम तिथि के पश्चात प्राप्त दावा-आपत्ति पर विचार नहीं किया जाएगा।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पद के लिए 28 सितम्बर तक आवेदन आमंत्रित
रायगढ़, 13 सितम्बर2021/ एकीकृत बाल विकास परियोजना रायगढ़ ग्रामीण अंतर्गत आंगनबाड़ी केन्द्र बरपाली-02 ग्राम पंचायत बरपाली में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पद के लिए 28 सितम्बर 2021 तक आवेदन आमंत्रित किए गए है। इच्छुक आवेदिका अपना परियोजना अधिकारी एकीकृत बाल विकास परियोजना रायगढ़ ग्रामीण में जमा कर सकते है। नियुक्ति के संबंध विस्तृत दिशा-निर्देश कार्यालय के सूचना पटल पर अवलोकन कर सकते है।

भगोरा के पोषण वाटिका को मिला राज्य स्तरीय सम्मान
पोषण माह के तहत जिले में आयोजित किए जा रहे विभिन्न कार्यक्रम

रायगढ़, 13 सितम्बर2021/ सितंबर महीना पोषण माह के तौर पर पूरे राज्य में मनाया जा रहा है। जिले में प्रतिदिन पोषण से संबंधित कार्यक्रम और गतिविधियां आयोजित की जा रही है। एक सितंबर को महिला एवं बाल विकास विभाग एवं औद्योगिक संस्थान के संयुक्त तत्वाधान में पोषण रथ निकालने के साथ ही पोषण माह की शुरुआत की गई।
उल्लेखनीय है कि कलेक्टर श्री भीम सिंह के निर्देशन में जिले को कुपोषण मुक्त करने की दिशा में निरंतर कार्य किया जा रहा है। बच्चों एवं गर्भवती माताओं को प्रोटीनयुक्त भोजन प्रदाय किया जा रहा है। बच्चों एवं महिलाओं को पोषणयुक्त साग-सब्जियां प्रदाय करने के उद्देश्य से आंगनबाड़ी केन्द्रों में पोषण वाटिका तैयार की गई है।
रायपुर में आयोजित पोषण सम्मेलन में तमनार सेक्टर के भगोरा आंगनबाड़ी के पोषण वाटिका को राज्य स्तरीय पुरस्कार मिला। जिसमें भगोरा आंगनबाड़ी की कार्यकर्ता संध्यावली गुप्ता को सम्मानित किया गया। भगोरा आंगनबाड़ी की कार्यकर्ता संध्यावली गुप्ता बताती हैं कि आंगनबाड़ी केन्द्र में कुल 35 बच्चे हैं जिनमें 3 कुपोषित हैं। 3 गर्भवती महिला और 2 महिला शिशुवती हैं। बीते डेढ़ साल में कोरोना संक्रमण काल में हमारी जिम्मेदारियंा बढ़ गई थी। अब संक्रमण कम हुआ है तो हम अपने नियमित रूप से कार्य कर रहे है। आंगनबाड़ी के पोषण वाटिका का निरीक्षण कलेक्टर श्री भीम सिंह ने किया था और कार्य की प्रशंसा किए थे। राज्य स्तरीय सम्मान मिलना गर्व की बात है। हमारे वाटिका में पोषण युक्त हरी साग-सब्जियां लगाई गई हैं।
हर त्योहार को मना रहे पोषण से जोड़कर
निर्मला देवांगन तमनार क्षेत्र की पर्यवेक्षक बताती हैं मेरे सेक्टर में 24 आंगनबाड़ी केंद्र हैं जिनमें से 10 जगह पोषण वाटिका है और बाकी की जगहों पर वाटिका लगाने की तैयारी की जा रही है। भगोरा आंगनबाड़ी की पोषण वाटिका में मौसमी सब्जियों को उगाया गया, साथ ही वहां की कार्यकर्ता संध्यावली ने साग-सब्जियों के प्रति बच्चों, बड़ों में अपनी वाटिका से जोड़ा है। हमने पोला के दिन बच्चों को खेल-खेल में पोषण के बारे में बताया, तीज में महिलाओं को मेहंदी इत्यादि माध्यमों से पोषण के महत्व को समझाया। यानि हर त्योहार को पोषण से जोड़ा जा रहा है।
रायपुर में आयोजित पोषण सम्मेलन में महिला एवं बाल विकास के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री टी.के.जाटवर, शहरी क्षेत्र की सुपरवाईजर दीपा सिंह, तमनार क्षेत्र की सुपरवाइजर निर्मला देवांगन और भगोरा आंगनबाड़ी की कार्यकर्ता संध्यावली गुप्ता शामिल हुए।

उच्च शिक्षामंत्री श्री उमेश पटेल ने 1 करोड़ 30 लाख के विकास कार्यों का किया लोकार्पण व भूमिपूजन
रायगढ़, 13 सितम्बर2021/ उच्च शिक्षामंत्री श्री उमेश पटेल ने आज खरसिया विकासखण्ड के विभिन्न ग्रामों के जनसंपर्क में पहुंचे। इस दौरान उन्होंने 1 करोड़ 30 लाख से अधिक के विकास कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन किया।
उच्च शिक्षामंत्री श्री उमेश पटेल ने गांवों में जनसंपर्क के दौरान ग्रामवासियों को संबोधित करते हुये कहा कि छत्तीसगढ़ की आत्मा गांवों में बसती है क्योंकि प्रदेश की करीब 80 प्रतिशत आबादी गांवों में निवास करती है। इसको ध्यान रखते हुए शासन ने प्राथमिकता से उनके विकास पर केंद्रित योजनाओं को तैयार कर लागू किया। कृषि प्रधान राज्य में राजीव गांधी किसान न्याय योजना से फसल आदान दिया है जिससे खेती किसानी को मजबूती मिली है। ग्रामीण व आदिवासी अंचलों में निवासरत वनोपज संग्राहक परिवारों के आमदनी के प्रमुख स्रोत को ध्यान में रखते हुए विभिन्न वनोपज को समर्थन मूल्य में खरीदी के दायरे में शामिल कर दामों में वृद्धि की गयी। 400 यूनिट तक बिजली बिल हाफ  किया गया। गोधन न्याय योजना और गौठान से ग्रामीण आजीविका संवर्धन को नई दिशा मिली है। इसके साथ ही अब भूमिहीन कृषि मजदूरों के लिए योजना शुरू की गई है। जिससे भूमिहीन परिवारों को सालाना 6 हजार की राशि प्रदान की जाएगी। उन्होंने सभी पात्र लोगों को योजना का लाभ लेने के लिए पंजीयन कराने की अपील की।
उच्च शिक्षामंत्री श्री पटेल ने कहा कि गांवों में जरूरत व मांग के अनुसार निर्माण कार्य करवाये जा रहे हैं। उन्होंने घघरा में निर्मित मिडिल स्कूल भवन निर्माण की सराहना करते हुए कहा कि गांव में पंचायत ने इतना बढिय़ा स्कूल भवन बनाया जिसके लिए सभी बधाई के पात्र हैं। इसके साथ ही उन्होंने यहां अन्य निर्माण कार्यों के लोकार्पण की सभी ग्रामवासियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि इससे गांव में मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति में आसानी होगी। जनसम्पर्क के दौरान ग्रामवासियों की समस्याओं से वे अवगत हुए तथा जल्द उसका निराकरण करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।
इस मौके पर जिला पंचायत सदस्य श्रीमती पूर्णिमा विजय जायसवाल, अध्यक्ष जनपद पंचायत खरसिया श्री महेत्तर राम उरांव, उपाध्यक्ष जनपद पंचायत खरसिया श्री कन्हैया पटेल, सरपंच घघरा श्री राजू राठिया, उपसरपंच श्री दीपक कृष्ण पाण्डेय, श्री मनोज गबेल, श्री अभय महंती, श्री विक्की सिंह राठौर, श्रीमती सुनिता भीषम राठौर, श्री भुवेनश्वर पाण्डेय, एसडीएम श्री अभिषेक गुप्ता, सीईओ जनपद श्री हिमांशु साहू सहित ग्रामवासी उपस्थित रहे।
इन कार्यों का हुआ लोकार्पण एवं भूमिपूजन-ग्राम घघरा में 20 लाख रुपये की लागत से नवनिर्मित शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला भवन निर्माण, 5.61 लाख रुपये की लागत से ग्राम पंचायत भवन जीर्णोद्धार, 1.75 लाख रुपये की लागत से प्रवेश द्वार निर्माण, 6.45 लाख रुपये की लागत से महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत आंगनबाड़ी भवन निर्माण, 7.80 लाख रुपये की लागत से सीसी रोड निर्माण, 6.45 लाख रुपये की लागत से मिनी आंगनबाड़ी भवन निर्माण, 1.15 लाख रुपये की लागत से इंटरलॉकिंग रोड निर्माण, 55 हजार रुपये की लागत से पुलिया निर्माण, 47 हजार रुपये की लागत से नाली निर्माण का लोकार्पण किया। साथ ही घघरा में 80 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने जा रहे पानी टंकी निर्माण का उन्होंने भूमिपूजन किया।

नोट: हेड लाइन के अलावा इस आर्टिकल में  RIG24 द्वारा किसी प्रकार का कोई बदलाव नहीं किया गया है। उपरोक्त जानकारियां जिला जनसंपर्क कार्यालय, रायगढ़ द्वारा प्रेषित की गई है।

Read More