CoronaRaigarh

रायगढ़ / होम आइसोलेशन के नियमों का गंभीरता से करें पालन ! एक ही परिवार के 6 लोग संक्रमित, क्षेत्र को बनाया गया कंटेनमेंट जोन ! मास्क पहनें और सामाजिक दूरी बनाए रखें :सीएमएचओ डॉ केसरी !


रायगढ़ 18 दिसंबर 2021 Raigarh news। कोरोना की बीती लहरों के दौरान मरीजों की अच्छी देखभाल करने में होम आइसोलेशन प्रणाली से काफी मदद मिली है। इसलिए राज्य सरकार के के निर्देश पर जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा होम आइसोलेशन प्रणाली को और मजबूत किया जा रहा है। जिससे ताकि कोरोना के हल्के लक्षण वाले मरीजों को घर पर ही बेहतर इलाज दिया जा सके। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने एक मजबूत सिस्टम बनाया हुआ है। मरीज स्वास्थ्य विभाग द्वारा इसके के लिए हेल्प लाइन नंबर 9752005264 जारी किया गया है। कोई भी हेल्पलाइन नंबर पर काल कर ऑक्सीजन सिलेंडर, टेली परामर्श, पल्स ऑक्सीमीटर, मेडिसिन किट, वैक्सीनेशन, अस्पताल में बेड की उपलब्धता, होम आइसोलेशन, एंबुलेंस सेवा, टेस्ट समेत अन्य जानकारी प्राप्त कर सकता है।

होम आइसोलेशन के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राजेश मिश्रा बताते हैं “आइसोलेशन में इलाज करा रहे मरीज की देखभाल करने वाले को कई बातों का ध्यान रखना जरूरी है। वह जब भी संक्रमित  व्यक्ति से जुड़ा कोई काम करें तो अतिरिक्त सावधानी बरतें। मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजर का इस्तेमाल और अन्य प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करें। अगर किसी भी तरह का लक्षण नजर आता है तो तत्काल आइसोलेट कर लें। बाकी लोगों से मिले-जुले नहीं। जांच कराएं और अगर पॉजिटिव आते हैं तो डॉक्टर की सलाह से पूरे प्रोटोकॉल का पालन करें।“ 

जिला स्वास्थ्य समिति द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार 17 दिसंबर तक जिले में 70 कोविड के मरीज सक्रिय हैं। इनमें से ज्यादातर लोग होम आइसोलेशन में हैं।

स्वास्थ्य विभाग के शहरी कार्यक्रम प्रबंधक डॉ राकेश वर्मा बताते हैं, “वर्तमान में कोविड मरीजों की तादाद में बढ़ोतरी हुई है। जिनमें से अमूमन सभी लोग हल्के लक्षण वाले हैं। वैक्सीन लेने के बाद यह देखने में आया है कि कोविड पॉजिटिव मरीज से लोग अधिक सतर्क नहीं है। शहरी क्षेत्र में देखा गया कि ट्रेवल हिस्ट्री नहीं होने के बावजूद लोग संक्रमित हो रहे हैं। इनमे संक्रमण होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों से आया है। इसलिए लोगों को सावधान रहना पड़ेगा। अन्यथा कंटेंमेंट ज़ोन स्वास्थ्य विभाग बनाएगा। फिलहाल चक्रधर नगर के बंगला पारा में एक ही परिवार के 6 लोगों के संक्रमित पाए जाने पर उसे कंटेंमेंट जोन बना दिया गया है।“ 

कोविड मरीज वाले घरों को बनाएं कंटेनमेंट जोन-कलेक्टर


गुरुवार को कलेक्टर भीम सिंह ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में ली।  उन्होंने कोविड की संभावित तीसरी लहर व नये ओमिक्रान वेरियेंट को लेकर पूरी सावधानी बरतने को लेकर सीएमएचओ को स्वास्थ्य सहित अन्य सभी विभागों के साथ समन्वय करते हुए कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा “हाल में आ रहे कोविड मामलों को लेकर पूरी सतर्कता बरती जाए, जिन घरों से कोविड पॉजिटिव मरीज मिल रहे है उसे कंटेनमेंट जोन बनाया जाए। घर के बाहर मार्किंग के साथ ही बेरीकेडिंग करें। मरीजों की कांटेक्ट ट्रेसिंग कर सेम्पलिंग व टेस्टिंग करें। अभी कोविड के कम मामले है, संक्रमितों के कांटेक्ट से ही केसेस निकल रहे है। ऐसे में पूरी गंभीरता के साथ कंटेनमेंट प्रोटोकाल का पालन किया जाए, जिससे कोविड संक्रमण को शुरूआत में ही रोका जा सके।” 

मास्क पहनें और सोशल डिस्टेंस बनाए रखें : सीएमएचओ डॉ केसरी
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एसएन ककेसरी ने कहा, “स्वास्थ्य विभाग कोरोना की स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए है, हमने पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन, बेड्स, दवाइयों और उपकरण का इंतजाम कर रखा है। लोग चिंता न करें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और घर से बाहर निकलें, तो मास्क अवश्य पहनें। आइसोलेशन में रहने वाले मरीज और उसकी देखभाल करने वाले को यह सुनिश्चित करना होगा कि आसपास साफ-सफाई रहे। कचरे का निपटान सही तरीके से हो। डिसइंफेक्शन और सैनिटेशन पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि मरीज को ऐसा आहार लेना है, जिसमें प्रोटीन अधिक हो। यह वायरस से लड़ने और जल्द से जल्द रिकवर होने में मदद करता है।

Sponsored by
Back to top button
Enable News Updates    OK No thanks