InformationNews

पीएफ खाते पर ब्याद दर बढ़ाए जाने को लेकर सरकार ने दिया बड़ा बयान! श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने लिखित जवाब में राज्यसभा को दी यह बड़ी जानकारी..

EPFO Interest Rates Hike: पीएफ अकाउंट रखने वालों के लिए बड़ी खबर है. पीएफ खाते पर ब्याद दर बढ़ाए जाने को लेकर सरकार ने बड़ा बयान दिया है. श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने सदन में वित्त वर्ष 2021-2022 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) जमा पर मिलने वाली ब्याज दर में किसी तरह का बदलाव नहीं करने की बात कही है. श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने एक सवाल के लिखित जवाब में राज्यसभा को यह बड़ी जानकारी दी है.

सरकार ने दी जानकारी

दरअसल, सदन में रामेश्वर तेली से ये सवाल पूछा गया था कि क्या सरकार कर्मचारी भविष्य निधि जमा राशि पर ब्याज की दर को बढ़ाने पर पुनर्विचार कर रही है? इस पर लिखित जवाब देते हुए उन्होंने स्पष्ट किया कि ब्याज दर पर पुनर्विचार करने का कोई प्रस्ताव नहीं है.यानी पीएफ खाते पर मिलने वाली ब्याज दर में कोई बढ़ोतरी नहीं होने जा रही है.

छोटी बचत योजनाओं से ज्यादा ब्याज

श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने यह भी कहा कि ईपीएफ की ब्याज दर अन्य तुलनीय योजनाओं जैसे सामान्य भविष्य निधि (7.10 प्रतिशत), वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (7.40 प्रतिशत) और सुकन्या समृद्धि खाता योजना (7.60 प्रतिशत) से अधिक है. यानी रामेश्वर तेली के अनुसार छोटी बचत योजनाओं से पीएफ पर मिलने वाला ब्याज आज भी ज्यादा है, ऐसे में ब्याज दर बढ़ोतरी पात्र सरकार कोई विचार नहीं करेगी. आपको बता दें कि ईपीएफ पर ब्याज दर 8.10 प्रतिशत देने को मंजूरी मिली है.

मंत्री ने कही ये बात 

रामेश्वर तेली ने कहा है कि पीएफ पर मिलने वाला ब्याज दर ईपीएफ द्वारा अपने निवेश से प्राप्त आय पर निर्भरे है और ऐसी आय को केवल ईपीएफ योजना, 1952 के अनुसार ही वितरित किया जाता है.रामेश्वर तेली ने यह भी कहा कि सीबीटी और ईपीएफ ने 2021-22 की खातिर 8.10 प्रतिशत ब्याज दर की सिफारिश की थी जिसे सरकार द्वारा मंजूर कर लिया गया है, यानी इस बार पीएफ पर 8.10 की दर से ही ब्याज मिलेगा.

Back to top button