कोविड टीकाकरण में रायगढ़ प्रदेश में बना अव्वल…रिकॉर्ड तोड़ बुजुर्गों ने लगवाया टीका!!

RIG24:रायगढ़। कोविड 19 के टीकाकरण में रायगढ़ जिला लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रह है। दूसरे चरण के टीकाकरण में 60 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों को टीका लगाने के पहले दो दिन में 1,319 लोगों को जिले में टीका लगा जो पूरे प्रदेश में सर्वाधिक है। 1 मार्च को 373 और 2 मार्च को 946 लोगों ने टीका लगाया। इसी तरह 45 से 59 वर्ष के आयु वर्ग के ऐसे व्यक्ति जो गंभीर बीमारी से पीडि़त हैं उनके टीकाकरण में भी 1 मार्च को 36 और 2 मार्च को 211 लोगों ने टीका लगाया। तीसरे दिन टीकाकरण के लिए लोगों में उत्साह देखने ही बन रहा है।

टीकाकरण करवाती 68 वर्षीय बुजुर्ग

शहरी क्षेत्र की सुपरवाइजर और मेडिकल कॉलेज टीकाकरण बूथ की प्रभारी पुष्पलता पाणिग्रही ने बताया,“पहले दिन 60 से अधिक 26, दूसरे दिन 29 और तीसरे दिन 55 लोग आए। प्रचार-प्रसार होने से लोगों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है। हमारे सेंटर में टीकाकृत लोगों में कोई भी विपरीत प्रभाव देखने को नहीं मिला है”।

गंभीर बीमारियों से पीड़ित मरीजों को देना होगा प्रमाणपत्र
45 से 59 वर्ष के मध्य आयु वर्ग वाले गंभीर बीमारियों से ग्रस्त व्यक्तियों को टीकाकरण के लिए फोटो पहचान पत्र के साथ मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा रजिस्टर्ड चिकित्सक द्वारा उसकी बीमारी के संबंध में जारी प्रमाण-पत्र आवश्यक होगा। जिसे टीकाकरण के लिये साथ लाना होगा। टीका लगवाने के लिए नागरिकों को पंजीयन करना होगा। यह पंजीयन ऑनलाईन व ऑनस्पॉट तरीकों से हो सकेंगे। ऑनलाईन पंजीयन के माध्यम से सभी वैक्सीनेशन केन्द्रों में टीके लगवाये जा सकेंगे। वहीं ऑनस्पॉट पंजीयन की सुविधा सिर्फ शासकीय वैक्सीनेशन केन्द्रों में मिलेगी।

टीकाकरण करवाते 66 वर्षीय बुजुर्ग

छूटे हुए लोग अब लगा सकते हैं टीका : सीएमएचओ डॉ. केसरी
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एसएन केसरी ने बताया “टीकाकरण के लिए फ्रंट लाइन वर्कर्स, स्वास्थ्यकर्मी , राजस्व विभाग के कर्मचारी या जिन्हें प्रथम चरण में टीका लगना था जो भी किसी कारणवश टीकाकरण से छूट गए थे वह अब टीकाकरण केंद्र आकर टीका लगा सकते हैं। जिले में टीकाकरण को लेकर बेहद सकारात्मक परिणाम आ रहे हैं। बुधवार को 38 सरकारी और 3 निजी सेंटर में टीका लगाया गया। अब 13 और निजी अस्पतालों में गुरुवार में टीका लगना शुरू हो जाएगा। उन्हें इमपैंनल कर दिया गया है और सारी ट्रेनिंग मुहैय्या करा दी गई है।“

सभी को लगेगा टीका धैर्य रखें : जिला टीकाकरण अधिकारी
जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. भानू पटेल ने बताया “गाइडलाइन के अनुसार जो भी टीकाकरण के लाभार्थी हैं सभी को टीका लगेगा और पूरा स्वास्थ्य विभाग इसमें जुटा हुआ है। अभी तक जिले में टीकाकृत लोगों में कोई विपरीत प्रभाव देखने को नहीं मिला है। कई सेंटर्स में देखा गया है कि टीकाकरण के दौरान कुछ लोग थोड़ा समय लगने, वेटिंग हॉल में बैठाए रखने पर स्वास्थ्यकर्मियों से बहस कर रहे हैं जो कि गलत है। पूरा विभाग लोगों के लिए है थोड़ा धैर्य रखें, टीके की पर्याप्त डोज स्वास्थ्य विभाग के पास उपलब्ध है। टीकाकरण केंद्र में तय नियम और गाइडलाइन का लोग पालन करें, सभी के सहयोग से इस टीकाकरण अभियान को सफल बनाना है।

टीकाकरण केंद्रों में लगी लाइनें

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया
संत माइकल स्कूल स्थित टीकाकरण केंद्र के प्रभारी डॉ. राघवेंद्र बहिदार बताते हैं “ दोनों आयु वर्ग के लोग www.cowin.gov.in पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। लॉगइन करने के बाद अपना मोबाइल नंबर डालना होगा, इस पर ओटीपी मिलेगा। उसे वेबसाइट पर डालने पर पेज खुलेगा। इस पेज पर फोटोयुक्त कार्ड (वोटर आईडी, आधार कार्ड, राशन कार्ड) का नंबर , लिंग और पूर्व में किसी तरह की बीमारी की जानकारी भरनी होगी। जिस फोटोयुक्त कार्ड की जानकारी भरी गई है, वही टीकाकरण के दौरान केंद्र में ले जाना होगा। इस प्रक्रिया के बाद रजिस्ट्रेशन का कार्य पूरा हो जाएगा। उसके बाद मैसेज मिलेगा कि अगर चाहें तो तीन और लोगों (45-59,60 के ऊपर) को टीका लगवाने का रजिस्ट्रेशन भी कराया जा सकता है। इनके बारे में भी वही प्रक्रिया दोहरानी होगी।“

आनस्पॉट पंजीयन व टीकाकरण
यह सुविधा सिर्फ शासकीय वैक्सीनेशन केन्द्रों पर मिलेगी। इसके लिये फोटो आईडी कार्ड के साथ शासकीय वैक्सीनेशन केन्द्र में जाकर तत्काल मौके पर ही रजिस्टे्रशन कर टीका लगवाया जा सकेगा। 45 वर्ष से अधिक गंभीर बीमारी से पीडि़त व्यक्तियों को इसके लिये चिकित्सक द्वारा अपनी बीमारी के संबंध में जारी प्रमाण-पत्र साथ लेकर जाना अनिवार्य होगा।

टीका लगाने लाना होगा फोटो पहचान पत्र
टीकाकरण के लिए व्यक्ति को अपने साथ फोटो पहचान पत्र लाना होगा। जिनमें आधार कार्ड, वोटर आई डी कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, एनपीआर स्मार्ट कार्ड तथा फोटो युक्त पेंशन पत्र में से कोई एक पहचान पत्र लाना होगा। 45 वर्ष से अधिक गंभीर बीमारियों से ग्रस्त व्यक्तियों को टीकाकरण के लिए उक्त पहचान पत्रों के साथ पंजीकृत चिकित्सक द्वारा प्रमाणित किया हुआ संबंधित बीमारी का प्रमाण पत्र भी लाना होगा। जिसके आधार पर टीकाकरण किया जाएगा।

Read More

Raigarh

RIG Big Breaking :छत्तीसगढ़ के इन जिलों में कोरोना से मौंत का खौफनाक मंजर… आज 138 लोग हुए कोरोना के शिकार…प्रदेश में आज 16083 कोरोना मरीज़ आये सामने,9079 लोगों ने कोरोना से जीता जंग ! जानें जिलेवार कहाँ बढ़े मरीजों के आंकड़े.. पढ़े खबर..!