रायगढ़/ विश्वविद्यालय ने जारी कर दिया ऐसा फरमान कि छात्र-छात्राएं हो गए परेशान..! तमनार कालेज के छात्रो ने कुलपती के नाम तहसील में दिया ज्ञापन ! बताई अपनी परेशानियां..

1,094 views

रायगढ़। शासकीय महाविद्यालय तमनार के छात्र-छात्राओ द्वारा आज तहसील कार्यालय तमनार  में अटल बिहारी बाजपेई विश्विद्यालय बिलासपुर ( छ. ग) के  कुलसचिव के नाम तहसीलदार को तहसील कार्यालय तमनार में ज्ञापन सौंपकर परीक्षाओ के उत्तर पुस्तिका को पोस्ट ऑफिस में स्पीड पोस्ट कराने पर होने वाली समस्याओं को अवगत कराते हुए समस्या से निदान दिलाने का गुहार लगाए है। 

छात्र-छात्राओं ने बताया कि  बीते दिनों विश्वविद्यालय द्वारा आदेश आया है कि उत्तर पुस्तिकाओं को पोस्ट ऑफिस के माध्यम से कालेज को स्पीड पोस्ट करना है। तमनार महाविद्यालय के सभी छात्र छात्राओं को पोस्ट करने के लिए तमनार ही आना पड़ता है, तमनार पोस्ट ऑफिस की जगह बहुत संकरी है, जहां 10 परीक्षार्थी खड़े हो जाने पर भी भीड़ हो जाती है और सोशल डिस्टेंनसिंग का पालन करना असंभव हो जाता है।

कॉलेज में ही उत्तर पुस्तिका जमा करना हमारे लिए उचित होगा क्योंकि कॉलेज की जगह भी बड़ी है जहां पूर्ण रूप से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा सकता है। साथ उत्तर पुस्तिका प्रिंटआउट कराने के लिए भी लोगों को तमनार ही जाना पड़ता है। जिससे कंप्यूटर सेंटर में भी भारी भीड़ जमा हो रही है। यदि कॉलेज में ही उत्तर पुस्तिका मिल जाए तो अच्छा रहता क्योंकि पूर्व में छात्रों द्वारा यूनिवर्सिटी को परीक्षा शुल्क भी दिया गया है और पुनः प्रिंटआउट कराने में करीबन ₹500 का खर्चा परीक्षार्थियों को पुनः हो रहा है। दूरस्त अंचल से तमनार आ कर प्रिंट आउट निकलवाने और स्पीड पोस्ट करने की इस पूरी प्रक्रिया में विद्यार्थियों पर करीब 700-800 रुपये का अतिरिक्त वित्तीय बोझ आ रहा है।

पहले ही कोरोना महामारी में आर्थिक तंगी से जूझ रहे ग्रामीण विद्यार्थियों के परिवार पर यह दोहरी मार जैसा है। परीक्षा शुल्क जमा होने के बावजूद विद्यार्थियों को उत्तर पुस्तिका प्रिंट कराने व पोस्ट करने के लिए पैसे देने पड़ रहे है।


विद्यार्थियों ने  निवेदन किया हैं कि  परीक्षार्थियों के कष्ट को समझते हुए पोस्ट ऑफिस के बजाए महाविद्यालय में ही उत्तर पुस्तिका जमा कराना सुनिश्चित करें तथा साथ ही साथ परिक्षार्थियों के लिए उत्तर पुस्तिका भी कालेज से ही उपलब्ध कराए। जिससे हमें किसी प्रकार की समस्या नहीं होगी। उत्तर पुस्तिका उपलब्ध नहीं कराए जाने की दशा में विश्वविद्यालय द्वारा विद्यार्थियों को उत्तर पुस्तिका प्रिंट का खर्च वहन किया जाएं।आशा है कि आपके द्वारा छात्रहित में सोचते हुए जल्द ही समस्याओं का निदान किया जाएगा।