रायगढ़/ जंगल में झोपड़ी बनाने गए पहाड़ी कोरवाओं पर हाथी का हमला! दो लोगों की मौत!

1,239 views

जंगल में झोपड़ी बनाने गए पहाड़ी कोरवाओं पर हाथी ने हमला कर दिया। इससे दो लोगों की मौत हो गई। वहीं मृतक के परिवार की महिलाओं व बच्चों ने वहां से भाग कर अपनी जान बचायी। मामले की सूचना मिलते ही वन अमला तत्काल मौके पर पहुंचकर मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता राशि देकर आगे की प्रक्रिया शुरू कर दी। उक्त घटना कापू वन परिक्षेत्र की है।

इस संबंध में मिली जनाकारी के मुताबिक बीते दिन कापू वन परिक्षेत्र के कंडराजा निवासी धनेश्वर कोरवा पिता चदंन कोरवा पिता चंदन कोरवा 30 वर्ष व बोधीराम पिता अमरसाय कोरवा 62 वर्ष के परिवार सहित अन्य दो परिवार के आठ से दस सदस्य टेड़ासेमर में झोपड़ी बनाने गए हुए थे। दिनभर झोपड़ी बनाने का काम करने के बाद रात में सभी खाना खाकर महुआ पेड़ के नीचे सो रहे थे। तभी उन्हें हाथी के आने की जानकारी मिली। ऐसे में धनेश्वर सभी महिला व बच्चों को वहां से भगाने लगा, लेकिन धनेश्वर कोरवा का सामना हाथी से हो गया। हाथी ने उसे अपने सुंड से पटक कर मार दिया। वहीं 62 वर्षीय बोधीराम कोरवा चलने फिरने में असमर्थ था, तो उसे भी हाथी ने अपने पैरों तले कुचलकर मार दिया। सभी महिलाएं व बच्चों ने वहां से भाग कर अपनी जान बचायी। इसके बाद कोरवा परिवार वापस दाहीडांड पहुंचे और मामले की जानकारी दी।

कापू वन अमला को हाथियों के आने की सूचना मिलने के बाद तत्काल रेंजर सहित उनकी टीम मौके पर पहुंचे। इसके बाद मृतकों का शव पंचनामा कर मृतक के परिजनों को 25-25 हजार रुपए आर्थिक सहायता राशि दी गई और आगे की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

पहले भी हाथियों ने तोड़ा झोपड़ी विभागीय कर्मचारियों ने बताया कि पहाड़ी कोरवाओं का परिवार इससे पहले भी करीब दो साल पहले टेड़ासेमर में झोपड़ी बनाए थे। जिसे भी हाथियों ने तोड़ दिया था। जिसके बाद वन अमला द्वारा उन्हें मुआवजा भी दिया गया था। बताया जा रहा है कि वर्तमान में जहां झोपड़ी बनाने मृतक व उसका परिवार गए थे वह काफी उपर और जंगल में है। अक्सर उस क्षेत्र में हाथियों का विचरण होते रहता है। इससे पहले भी कई दफा यहां हाथियों के द्वारा नुकसान किया जा चुका है।

इस मामले में एस किन्डो, रेंजर, कापू वन परिक्षेत्र ने बताया कि

“हाथी के हमले से धनेश्वर कोरवा व बोधीराम कोरवा की मौत हो गई। मामले की जानकारी लगने के बाद तत्काल मौके पर पहुंच कर आगे की प्रक्रिया पूरी की गई है। मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता राशि दी गई है। मुआवजा की कार्यवाही पूरी की जा रही है।”