सरकारी सह पर धर्मांतरण के मिथ्या आरोप पर जिला कांग्रेस के वर्तमान व पूर्व अध्यक्ष ने जिला भाजपा को लिया आड़े हाथ, चुनौती देते हुए कहा – सिद्ध करें आरोप अन्यथा सार्वजनिक रूप से मांगे माफी..!

रायगढ़ 27 अगस्त। विगत दिनों भाजपा के स्थानीय नेताओं द्वारा प्रदेश के राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री के नाम पर कलेक्टर को ज्ञापन देकर राज्य सरकार पर धर्मांतरण को संरक्षण देने का मिथ्या व बेबुनियाद गम्भीर आरोप लगाने को लेकर जिला कांग्रेस आक्रामक हो गया है।

इस विषय पर जिला कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष दिलीप पाण्डेय एवं वर्तमान अध्यक्ष अरुण मालाकार ने कड़ी प्रतिक्रिया के साथ स्थानीय भाजपा नेताओं को चुनौती देते हुए विज्ञप्ति जारी किया। उन्होंने कहा की :

राजनीति में आलोचना समालोचना की गुंजाइश रहती है लेकिन इस प्रकार से कांग्रेस सरकार के आने के बाद सरकारी सह पर धर्मांतरण का मिथ्या आरोप को सही नहीं ठहराया जा सकता। हम इस बेबुनियाद और मिथ्या आरोप को सिरे से खारिज करते हैं। भाजपा नेतागण इसे सिद्ध करें अन्यथा सार्वजनिक रूप से माफी मांगे। मामले की बिना सत्यता जानें भाजपा नेताओं ने कांग्रेस सरकार के आने के बाद सरकारी सह पर जिलें में धर्मांतरण होने का मिथ्या आरोप लगाया है। अगर यह सिद्ध हो गया तो हम अपने सार्वजनिक जीवन से सन्यास ले लेंगे और यदि भाजपाई इस आरोप को सिद्ध नहीं कर पाए तो क्या आरोप लगाने वाले भाजपा नेतागण अपने सार्वजनिक जीवन से सन्यास लेने का साहस करेंगे? बीजेपी हमेशा से भ्रम की राजनीति करती आई है। सरकार के खिलाप इनके पास कोई मुद्दा नहीं है इसलिए बेतुकी व मिथ्या आरोप लगाकर सरकार की छवि को धूमिल करने के कुत्सिक प्रयास की हम घोर निंदा करते हैं।

Link Open