RIG Alert: मोनेट कॉलोनी में कोरोना की धमक से बजी खतरे की घण्टी.. ग्रामीण मोनेट प्लांट सील करने की कर रहे मांग वरना गांव में तबाही मचा सकता है कोरोना, भूपदेवपुर अंचल में दहशत व्याप्त..!

रायगढ़ 20 अगस्त। भूपदेवपुर के नहरपाली स्थित मोनेट (जेएसडब्ल्यू प्लांट) में कल 06 कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई थी। इससे पहले भी मोनेट प्लांट स्थित डी ब्लॉक कॉलोनी में एक ही परिवार समेत तीन लोगों का कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आया था। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग द्वारा पूरे कॉलोनी के लोगों का कोरोना जांच किया गया था जिसमें कल एक साथ 06 लोगों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।

मोनेट प्लांट में कुल 09 मरीज सक्रिय

मोनेट प्लांट में वर्तमान में 09 एक्टिव मरीज पाए जाने से हड़कंप मचा हुआ। बताया जा रहा है कि इनमें से दो 11 वर्ष के मासूम बालक बालिका भी शामिल है। मोनेट कॉलोनी में कोरोना वायरस के संक्रमण फैलने के कारण अब प्लांट कर्मियों सहित ग्रामीणों में भी दहशत व डर व्याप्त हो चुका है क्योंकि प्लांट की कॉलोनी से ही प्रतिदिन हजारों लोगों का आस-पास के गांव में आना – जाना लगा रहता है जिससे भूपदेवपुर, नहरपाली,चपले तथा अन्य गांव के लोग ख़ौफजदा हो गए हैं। प्लांट मैं ड्यूटी करने जाना है लोग भी डर – डर कर काम कर रहें हैं। उनके साथ उनका परिवार भी डरा व सहमा हुआ है।

मोनेट प्लांट को सील करने के लिए ग्रामीण कर रहे हैं मांग

ग्रामीणों का कहना है की, मोनेट प्लांट को कुछ दिनों के लिए बंद कर देना चाहिए और सभी मोनेट कर्मचारियों का कोरोना जांच करना चाहिए क्योंकि प्लांट में हजारों लोग काम कर रहे हैं और ना जाने कितने लोगों को कोरोना ने संक्रमित कर दिया होगा ? इसलिए सुरक्षा के दृष्टिकोण से प्रशासन को मोनेट प्लांट को कुछ दिनों के लिए सील करते हुए प्लांट में कार्यरत सभी कर्मियों का कोरोना सैंपल लेकर उसकी जांच करनी चाहिए वरना लेट – लतीफ होने पर पूरे अंचल में भी कोरोना का संक्रमण फैल सकता है। प्लांट खोलकर ग्रामीणों के जीवन का रिस्क लेना मतलब पूरे क्षेत्र को कोरोना के खतरे डालना है। जिला प्रशासन को तत्काल इस विषय पर गंभीरतापूर्वक विचार करते हुए संज्ञान लेना चाहिए।

Read More