रायगढ़ / ट्रक मालिक कल्याण समिति के दर्जनों पदाधिकारी ने आरटीओ अधिकारी को सौपा ज्ञापन…! जाने क्या है मांग.. पढ़े पूरी खबर..

रायगढ़/ रायगढ़ ट्रक मालिक कल्याण समिति के सदस्यों ने आरटीओ अधिकारी को बताया कि अभी वर्तमान में कोविड-19 के समय फिटनेस के लिए ट्रक मालिकों को रिफ्लेक्टर लगाना अनिवार्य कर दिया गया है जो कि कहीं से भी उचित नहीं है साथ ही साथ ट्रक मालिक कल्याण समिति के सदस्यों ने बताया कि रिफ्लेक्टर की कीमत दो दुकानों में अलग-अलग ली जा रही है, जिस रिफ्लेक्टर की कीमत ऑनलाइन में 400 से ₹500 दिखा रहा है उसी का रायगढ़ में दो दुकानदारों द्वारा 3000 से ₹4000 लिया जा रहा है

जो कि सरासर गलत है और ना उचित है, इसके लिए सरकार को एक रेट फिक्स करना चाहिए, साथ ही साथ कोविड-19 के दौर को देखते हुए जिस प्रकार अन्य टैक्सों में 31 मार्च तक का छूट दिया गया है उसी प्रकार इसमें भी 31 मार्च तक का छूट दिया जाए इन्हीं सब मांगों का पुलिंदा लेकर आज तक मालिक कल्याण समिति के सदस्य गुहार लगाने रायगढ़ आरटीओ अधिकारी के पास पहुंचे।


रायगढ़ आरटीओ अधिकारी सुमित अग्रवाल ने समिति का ज्ञापन लेने के पश्चात उन्हें बताया कि टैक्स लेने और नहीं लेने का निर्णय का परिवहन कार्यालय रायपुर के हाथ में होता है इसीलिए वह उनके ज्ञापन को उच्च अधिकारियों को प्रेषित कर देंगे उसके बाद जो भी निर्णय ऊपर से आदेश आएगा उसका वह पालन करेंगे हालांकि उन्होंने यह जरूर माना कि अगर रिफ्लेक्टर का रेट बड़ा कर लिया जा रहा है इसकी वे जांच करवाएंगे साथी साथ वह भी शासन से आग्रह करेंगे कि रिफ्लेक्टर का एक रेट फिक्स किया जाए।
समिति के सदस्यों ने बताया कि आज रायगढ़ आईटीओ को ज्ञापन देने के पश्चात भी अगर उनकी मांगों पर विचार नहीं किया जाता तो वह बाध्य होकर रायपुर परिवहन कार्यालय जाकर अपनी मांगों के लिए आंदोलन करेंगे साथ ही साथ स्थानीय विधायक सांसद और प्रभारी मंत्री से भी गुहार लगाने की बात ट्रक मालिक कल्याण समिति के सदस्यों ने कही है।