जनता के लिए प्रशासन का साथ..! NHM के कर्मचारियों ने हड़ताल के दौरान कोविड अस्पतालो में वालेंटियर के रूप में कार्य करने का दिया प्रस्ताव..!!

रायपुर। नियमतिकरण की मांग को लेकर 19 सितम्बर से 13000 अनियमित कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने से पूरे प्रदेश में हाहाकार मच गया।पहले से ही स्वास्थ्य विभाग में कर्मचारियों की कमी थी वही इन अनियमित कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने से सैम्पलिंग, डेटा ट्रेसिंग संबंधित दिक्कतें सामने निकल कर आ रही है।

प्रदेश सरकार भी इन्हें मनाने का भरसक प्रयास कर रही है।पूरी जद्दोजहद में लगी हुई है कि इनकी पुनः कार्य वापसी हो सके।वही इन कर्मचारियों का कहना है कि हम बिना बीमा सुरक्षा के इस कोरोना काल मे पूरे तन मन से लगे रहे है और आगे भी लगे रहेंगे हमारी भी मांग जायज है हमे प्रदेश की जनता की चिंता है इसलिए पूरे प्रदेश संघ ने निर्णय लिया है कि हमे उचित जगहों पर हड़ताल तक वालिंटियर के रूप में कार्य करने दिया जावे।

जबकि प्रदेश सरकार ने अपने घोषणा पत्र में मुख्य तौर पर जिक्र किया था कि अनियमित कर्मचारियों को सरकार बनने के 10 दिनों के भीतर नियमित कर दिया जाएगा।लेकिन सरकार की तरफ से इन स्वास्थ्य कर्मियों के प्रति कुछ भी रुझान देखने को नही मिला है। बहरहाल देखा जाना दिलचस्प होगा कि सरकार आगे क्या कदम उठाती है और अपने वादे पर खरा उतर पाती हैं।

Read More