रायगढ़/ आवारा कुत्तों के आतंक से लोगों को झेलनी पड़ रही है आर्थिक व शारीरिक परेशानी… बढ़ती जनसंख्या बन सकती है मुसीबत..!!

रायगढ़ | आवारा कुत्तों का आतंक अब तक शहर की गलियों तक ही सीमित था, लेकिन इन पर लगाम नहीं लगाने से ये अब मुख्य मार्गों पर चलने वालों पर भी हमला करने लगे हैं। जिससे लोगों को आर्थिक व शारीरिक रूप से परेशानियां झेलनी पड़ रही है। कभी कुत्ते बाहर खड़ी वाहनों का सीट कवर फाड़ कर तहस-नहस कर दे रहे हैं तो कभी रात में पैदल चलते वक्त कुत्ते अपना हुकूमत जमाने लगे हैं मानो अब रात में अकेला चलना चलना अब दूभर हो गया है। कुत्ते अब चलती बाइक को रात के वक्त दौड़ाने लगे है ।

मुख्य मार्गों पर हो रहा हमला-

Advertisement

नगर निगम की नसबंदी जैसी योजना फैल होने के बाद एकाएक कुत्तों की संख्या बढ़ गई है। इंदिरा नगर, कोष्टा पारा, दीनदयालपुरम्, चक्रधरनगर, सेठीनगर, बोईरदादर, कोतरा रोड, केवड़ाबाड़ी चौक जैसे इलाकों में तो कुत्तों के चलते रात में पैदल गुजरना किसी खतरे से कम नहीं है। इन क्षेत्रों में आवारा कुत्तों की रात होते ही आने जाने वालों पर हमला कर देते है। हालांकि ये होने वाले हमले गलियों से गुजरने पर ही अधिक नजर आते थे, लेकिन हाल के दिनों में जिस तरह से मुख्य मार्गों पर चलने वाले दो पहिया वाहन चालक इसके शिकार हो रहे हैं।

सड़कों पर आवारा घूम रहे कुत्तों की वजह से कई घटनाएं भी सामने आती है अभी अभी कुछ दिनों पहले कोतरा रोड थाना क्षेत्र में कुत्ता के चलते एक युवक बाइक से गिर गया था जिससे उसकी जान चली गई थी।