रायगढ़/इस्तीफा दे चुके एनएचएम कर्मचारियों ने निभाई अपनी अनऑफिशियल ड्यूटी… जनता को किया जागरूक,बांटे मास्क… अनोखे स्लोगन युक्त पोस्टरों को पीठ पर टांगे हुए नजर आए!!

रायगढ़। रायगढ़ में 24 सितंबर से 30 सितंबर तक टोटल लॉकडाउन लग रहा है। इसी बीच आज स्थानीय बाजार में व्यक्तियों की सामान्यतः दिनों से ज्यादा भीड़ देखने को मिली है। गौरतलब हो कि आज जूट मिल बस स्टैंड में जनता के हितों को देखते हुए जिला कलेक्टर के द्वारा भी मास्क एवं खाद्य सामग्री वितरित की गई।

वही आज 12 बजे के समीप एन एच एम के हड़ताल कर्मियों के द्वारा मिनी स्टेडियम में लगे बाजारों में आम जनता को कोरोनावायरस से जागरूक करते हुए। जनता के हित मे मास्क तथा जागरूकता पाम्पलेट्स का डिस्ट्रीब्यूशन कार्य किया।

मास्क और पोस्टर बांटते हुए कर्मचारियों ने कुछ अनोखे पोस्टर अपने सीने और पीठ पर लगा कर रखे थे। जिसमें N फॉर “नहीं” H फॉर “हारेगा” M फॉर “मनोबल” शब्द देखने को मिला।जिसका आशय कभी नही खत्म होने वाले मनोबल से लगाया जा सकता है।

बताते चलें कि पूरे प्रदेश में 13000 से ज्यादा कर्मचारी 19 सितंबर से हड़ताल पर हैं एवं बीते मंगलवार को जिले के 450 कर्मचारियों में से 438 कर्मचारियों ने अपना त्यागपत्र सीएमएचओ को सौंप दिया था। जिसके बाद से आधिकारिक तौर पर ड्यूटी पर नही होते हुए भी ये हड़तालकर्मी अपना फर्ज निभा रहे हैं।

प्रदेश एनएचएम संघ ने पूर्व में भी प्रदेश सरकार को वॉलिंटियर के तौर पर कार्य करने हेतु प्रस्ताव रखा था। लेकिन सरकार की तरफ से कोई रुझान नहीं मिलने के कारण मंगलवार को उन्होंने इस्तीफा सौंप दिया था। अब देखा जाना दिलचस्प होगा कि प्रदेश सरकार आगे क्या कदम उठाती है और इन स्वास्थ्य कर्मियों को नियमित करती है।